Corona महामारी के बीच उत्सवों का श्रीगणेश: शांति का संदेश देने पुरी के समुद्र तट पर विराजे दुनिया के पहले ‘सीप गणेश जी’

नई दिल्ली, 10 सितंबर (The News Air)
कोरोना महामारी के बीच आज से 10 दिनी गणेश उत्सव (Ganesh Utsav Festival) का शुभारंभ हो गया है। इस दौरान विभिन्न राज्यों में बड़े पंडाल और पंडालों में महाआरती जैसे कार्यक्रमों पर पाबंदी लगाई गई है। महाराष्ट्र में विशेष ध्यान दिया जा रहा है, क्योंकि यहां गणेश उत्सव बड़े स्तर पर मनाया जाता रहा है। महाराष्ट्र में सार्वजनिक पंडालों में दर्शनों के दौरान लगने वाली भीड़ को रोकने श्रद्धालुओं के आने पर रोक लगा दी गई है। चल समारोह और दूसरे अन्य जुलूसों में भी लोगों की संख्या सीमित कर दी गई है।

(यह तस्वीर ओडिशा के पुरी तट पर प्रसिद्ध आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक द्वारा रेत से बनाई गणेश प्रतिमा की है। आर्टिस्ट के अनुसार, पहली ‘विश्व शांति’ के संदेश के साथ मूर्ति बनाने में 7000 सीपियों का उपयोग किया है। पटनायक ने कहा-‘मुझे आशा है कि यह भगवान गणेश की रेत स्थापना कला के साथ दुनिया का पहला Seashells(सीप के गणेश) होगा।’)

मुंबई में धारा 144 लागू- गणेश उत्सव मुंबई में भव्य तरीक़े से मनाया जाता रहा है। लेकिन यह दूसरा साल है, जब गणेश पंडालों में वैसी रौनक़ नहीं रहेगी। Corona Virus के संक्रमण को फैलने से रोकने मुंबई में धारा 144 लागू कर दी गई है। महाराष्ट्र गृह विभाग की ओर से जारी आदेश के अनुसार पंडाल से ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था की गई है। महाराष्ट्र में मूर्ति लाने और विसर्जन के लिए ले जाते समय सिर्फ़ 10 लोग मौजूद रह सकेंगे। घर में मूर्ति लाने और विसर्जन के लिए ले जाते समय यह संख्या सिर्फ़ 5 रहेगी।

Corona गाइडलाइन का पालन अवश्य करें- Corna की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनज़र देश के सभी राज्यों में कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के आदेश बहुत पहले दिए जा चुके हैं, अब लोगों से अपील की जा रही है कि वे गणेश उत्सव के दौरान कोई लापरवाही न बरतें। महाराष्ट्र में जुलूस में शामिल होने वालों के लिए वैक्सीनेशन ज़रूरी कर दिया गया है।

अमेरिका में बच्चों में बढ़ते संक्रमण से चिंता-Corona की तीसरी लहर का ख़तरा अभी बना हुआ है। भारत में बार-बार चेतावनी दी जाती रही है कि तीसरी लहर से बच्चे अधिक प्रभावित हो सकते हैं। अमेरिका में बच्चों में संक्रमण तेज़ी से फैला है। यहां एक हफ़्ते के अंदर 2.5 लाख बच्चों में संक्रमण निकला है। अमेरिका में कुल संक्रमितों में से 26 प्रतिशत बच्चे हैं। अमेरिकी अकादमी ऑफ़ पेडियाट्रिक्स के मुताबिक़, 5 अगस्त से 2 सितंबर के बीच बच्चों में संक्रमण के 7.5 लाख मामले सामने आए हैं।

विभिन्न राज्यों ने जारी किए आदेश- राजस्थान सरकार ने भीड़-भाड़ वाले आयोजनों पर रोक लगा दी है। इस संबंध में सभी कलेक्टरों को पत्र लिख दिया गया है। कर्नाटक में एक पंडाल में 20 से अधिक लोगों पर पाबंदी लगा दी गई है। गणपति की मूर्ति भी 4 फीट से अधिक नहीं होने का आदेश है। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने केरल में ओणम और बक़रीद के बाद बढ़े केसों का हवाला देते हुए गणेश चतुर्थी पर रोक लगा दी है। आंध्र प्रदेश में सीएम जगमोहन रेड्डी ने भी गणेश उत्सव के सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है।

दिल्ली सरकार ने भी गणेश उत्सव के सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है। गुजरात (Gujarat) में नवरात्रि व गणेश उत्सव (Ganesh Chaturthi) को देखते हुए सरकार ने डीजे, बैंड व गायकों को सार्वजनिक स्थलों पर समारोह की छूट दे दी है, लेकिन इसके लिए पुलिस से अनुमति लेनी होगी। बुधवार को इस संबंध में मुख्य मंत्री विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने मंत्रिमंडल की बैठक में राज्यम की कोरोना की स्थिति का जायज़ा लिया था।

Leave a Comment