By-election:ममता बनर्जी आज नामांकन भरने के साथ शुरू करेंगी चुनावी युद्ध का श्रीगणेश

कोलकाता, 10 सितंबर (The News Air)
भवानीपुर विधानसभा उप चुनाव (Bhawanipur assembly by-election) के ज़रिये अपनी कुर्सी बचाने उतरीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज से अपना नामांकन दाखिल करेंगी। गुरुवार को उन्होंने अपने चुनावी अभियान का श्रीगणेश किया था। इस सीट से कांग्रेस अपना कोई उम्मीदवार खड़ा नहीं करेगी, जबकि भाजपा से प्रियंका टिब्रेवाल प्रत्याशी हो सकती हैं। चुनाव आयोग ने भवानीपुर विधानसभा सीट पर 30 सितंबर को उपचुनाव कराने का ऐलान किया था। रिजल्ट 3 अक्टूबर को आएगा। इस सीट के अलावा बंगाल के समसेरगंज, जंगीपुर और ओडीशा की पीपली सीट पर भी चुनाव होना है।

अर्जुन सिंह को बनाया भाजपा ने प्रभारी-पश्चिम बंगाल भाजपा के उपाध्यक्ष और सांसद अर्जुन सिंह को सीएम ममता बनर्जी द्वारा लड़े जा रहे भवानीपुर विधानसभा उपचुनाव का पार्टी प्रभारी बनाया गया है। सांसद सौमित्र ख़ान और ज्योतिर्मय सिंह महतो उनकी सहायता करेंगे। भाजपा के 8 विधायकों को निर्वाचन क्षेत्र के 8 वार्डों का प्रभार दिया गया है।

corona संक्रमण के मद्देनज़र जुलूसों पर प्रतिबंध-नामांकन से लेकर चुनाव तक हर तरह के राजनीति जुलूसों और भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों पर पाबंदी लगाई गई है। कोरोना के चलते यह सख़्ती बरती जा रही है। प्रचार के लिए बाहरी जगहों पर भी सिर्फ़ 50 प्रतिशत लोग ही रह सकेंगे। राष्ट्रीय और राज्य स्तरीय मान्यता प्राप्त दलों के लिए अधिकतम 20 स्टार प्रचारक हो सकेंगे।

नंदीग्राम से हारी थीं चुनाव-तृणमूल कांग्रेस ने रविवार को ममता बनर्जी को आधिकारिक रूप से अपना उम्मीदवार घोषित किया था। चुनाव आयोग ने शनिवार को उपचुनाव की घोषणा की थी। जिसके साथ दक्षिण कोलकाता की इस सीट पर तृणमूल कांग्रेस का चुनाव प्रचार शुरू हो गया है। बनर्जी 2021 के विधानसभा चुनाव में नंदीग्राम सीट पर भाजपा के शुभेंदु अधिकारी से हार गयी थीं।

5 नवंबर तक विधानसभा की सदस्यता लेनी होगी-ममता को मुख्यमंत्री पद पर बने रहने के लिए इस उपचुनाव में जीत हासिल करनी होगी। बनर्जी को पांच नवंबर तक राज्य विधानसभा की सदस्यता प्राप्त करनी होगी। भवानीपुर के अलावा 30 सितंबर को शमशेरगंज और जंगीपुर विधानसभा सीट पर भी वोटिंग होगी। शमशेरगंज सीट से अमिरुल इस्लाम और जंगीपुर विधानसभा सीट से जाकिर हुसैन को कैंडिडेट्स बनाया गया है।

विधायक ने ममता के लिए दिया था इस्तीफ़ा-वरिष्ठ पार्टी नेता सोभनदेव चट्टोपाध्याय ने भवानीपुर से तृणमूल कांग्रेस विधायक के रूप में इस्तीफ़ा दिया है ताकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के उपचुनाव लड़कर राज्य विधानसभा की सदस्य बनने का रास्ता साफ़ हो। चट्टोपाध्याय ने इस सीट पर भाजपा के उम्मीदवार और अभिनेता रुद्रनील घोष को क़रीब 28,000 वोटों से हराया था। ममता बनर्जी विधानसभा में भवानीपुर सीट से जीतकर पहुंचती रही हैं। इस बार इस सीट पर टीएमसी के नेता शोभनदेव चट्टोपाध्याय ने जीत हासिल की थी। ममता बनर्जी 2011 से इस सीट पर दो बार विधायक बन चुकी हैं।

Leave a Comment