पंजाब में सभी इंप्रूवमेंट ट्रस्ट भंग:नए चेयरमैन मिलने तक…

The News Air- पंजाब की नई आम आदमी पार्टी सरकार ने सभी इंप्रूवमेंट ट्रस्ट भंग कर दिए हैं। जिसके बाद कांग्रेस सरकार के समय से नियुक्ति सभी चेयरमैनों और ट्रस्टियों की छुट्‌टी हो गई है। वहीं मंडी बोर्ड चेयरमैन लाल सिंह, पनकोफैड के चेयरमैन अवतार सिंह और पीआरटीसी के चेयरमैन सतविंदर सिंह शामिल हैं। इनके अलावा PSIEC के डायरेक्टर हरमेश चंद्र, इन्फोटैक के उप चेयरमैन कार्तिक वढ़ेरा, डायरेक्टर मनजीत सिंह सरोया, सतीश कांसल, सुरजीत सिंह और डॉ. नरेश परूथी ने भी इस्तीफ़ा दे दिया।

q

DC को सौंपा चेयरमैन का कामकाज

नया चेयरमैन बनाए जाने तक संबंधित ज़िलों के डिप्टी कमिश्नर ट्रस्ट का कामकाज देखेंगे। उन्हें बतौर चेयरमैन इंप्रूवमेंट ट्रस्ट का चार्ज दिया गया है। पंजाब में इस वक़्त 28 इंप्रूवमेंट ट्रस्ट हैं। जिनमें जालंधर, लुधियाना, अमृतसर और पटियाला को लेकर काफ़ी उठापटक मची हुई थी।

सरकार बदलने के बाद भी नहीं छोड़ी कुर्सी

पंजाब में कांग्रेस सरकार बदलने के बाद भी कई कांग्रेसी कुर्सियों पर डटे हुए थे। पंजाब में क़रीब 40 बोर्ड, 12 निगम हैं। इनके अलावा मार्कफैड, मिल्कफैड, कोआपरेटिव बैंक समेत क़रीब 150 ऐसे बोर्ड और निगम हैं, जहां उच्च पद पर सरकार से जुड़ी पार्टी के पदाधिकारियों की नियुक्ति की ज़ाती है। इनमें कई तो कैबिनेट रैंक वाले पद भी हैं। इन्हें मोटे वेतन के साथ भत्ते, सरकारी कोठी और गाड़ी के साथ गनमैन भी मिलते हैं।

विधायकों को एडजस्ट करेगी मान सरकार

पंजाब चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 117 में से 92 सीटें जीती हैं। राज्य सरकार में CM समेत 18 मंत्री बन सकते हैं। ऐसे में बाक़ी विधायकों को एडजस्ट करने के लिए बोर्ड और निगमों का सहारा लिया जाएगा। पंजाब में संगठनात्मक तौर पर आप ज़्यादा मज़बूत नहीं है और उनके अधिकांश सक्रिय नेता चुनाव जीत चुके हैं। ऐसे में जल्द विधायकों को बोर्ड और निगम में नई कुर्सियों का तोहफ़ा मिल सकता है।

Leave a Comment