Lakhimpur: किसानों की हत्या को लेकर SIT ने किया बड़ा खुलासा, आरोपियों के ख़िलाफ़ बढ़ाई धाराएं


The News Air – (लखीमपुर) यूपी के लखीमपुर स्थित तिकुनिया कांड (Lakhimpur case) में तीन महीने बाद एसआईटी (SIT) की जांच में बड़ा खुलासा हुआ है। एसआईटी की जांच टीम ने लखीमपुर कांड ( Lakhimpur Tikunia case) को हत्या की सोची समझी साज़िश माना है। कांड को सोची समझी साज़िश मानते हुए मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा समेत सभी आरोपियों पर कई संगीन धाराएं बढ़ा दी हैं। इसमें धारा 307, 326 और 34 भी शामिल है। इसके साथ ही जांच टीम ने बढ़ाई गई धाराओं में आरोपियों की रिमांड लेने के लिए कोर्ट में एक बार फिर आवेदन दिया है। ज्ञात हो कि लखीमपुर तिकुनिया कांड में चार किसान और एक पत्रकार की हत्या में केन्द्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के पुत्र आशीष मिश्रा पर मुक़दमा दर्ज़ हुआ था। मुक़दमे में धारा 302, 304ए, 147, 148, 149, 279, 338 और 120बी लगी हुई थी। इन्हीं धाराओं में एसआईटी ने आशीष मिश्रा उर्फ मोनू, अंकित दास और सुमित जायसवाल समेत सभी आरोपियों को जेल भेजा था। मामले की विवेचना अभी जारी है।

अभी तक विवेचना में एसआईटी ने पाया है कि जेल में बंद सभी आरोपियों ने धारा 307 (जानलेवा हमला) धारा 326 (अंग भंग करना) और धारा 34 (एक राय) का अपराध किया है। एसआईटी ने मुकदमें में धारा 34, 307 और 326 बढ़ा दी है। बढ़ाई गई धाराओं में आरोपियों की रिमांड लेने के लिए विवेचक ने सोमवार को कोर्ट में अर्ज़ी दी है। इस अर्ज़ी पर कोर्ट ने मंगलवार को आरोपियों को तलब किया है। एसआईटी ने विवेचना के दौरान यह भी पाया है कि आरोपियों पर धारा 304ए, 279और 338 का अपराध नहीं बनता है। एसआईटी ने मुक़दमे से धारा 304ए, 338 और 279 को हटा दिया है।

हादसा का नहीं है मामला

एसआईटी के मुख्य जांच अधिकारी विद्याराम दिवाकर ने स्पष्ट बता दिया है कि यह लापरवाही व उपेक्षापूर्वक गाड़ी चलाते हुए दुर्घटनावश मृत्यु का का मामला नहीं है। यह सोची-समझी साज़िश है। साज़िश के चलते भीड़ को कुचलने, हत्या करने, हत्या की कोशिश के साथ ही अंग भंग करने की साज़िश का मामला है। 3 अक्टूबर को हुई लखीमपुर के इस कांड में चार किसानों को कार से रौंद दिया गया था। कार से रौंदने के बाद हिंसा हुई जिसमें एक पत्रकार सहित चार लोगों की मौत हो गयी। लखीमपुर कांड में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हुई थी।


Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

I Have Disabled The AdBlock Reload Now
Powered By
CHP Adblock Detector Plugin | Codehelppro