Russia Ukraine War: मारियुपोल बना दूसरा बुचा, सैटेलाइट तस्वीर में दिखीं 200 से ज्यादा नई कब्र, आखिरी गढ़ में अब भी डटे यूक्रेनी सैनिक

Russia Ukraine War: रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने यूक्रेन युद्ध (Ukraine War) की सबसे बड़ी लड़ाई में जीत का दावा कर दिया, लेकिन शुक्रवार को भी मारियुपोल (Mariupol) में यूक्रेनी लड़ाके अपने आखिरी ठिकाने पर डटे रहे। हफ्तों की लगातार बमबारी के बाद उन्होंने इस बंदरगाह शहर को “मुक्त” घोषित कर दिया।

हालांकि, अमेरिका ने पुतिन के दावे पर ऐतराज जताया और कहा कि उनका मानना ​​​​है कि यूक्रेनी सेना अभी भी शहर में जमीन पर है। पुतिन ने अपनी सेना को मारियुपोल के उस स्टील प्लांट पर हमला करने से मना कर दिया, जिसमें यूक्रेन लड़ाकू छिपे हैं।

मगर उन्होंने अपने जवानों से प्लांट की सख्त घेराबंद करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि घेराबंदी ऐसी हो कि कोई भी निकल के भागने न पाए और परिंदा भी पर न मार सके।

मारियुपोल शहर के बाहर सामूहिक कब्रें

दूसरी तरफ यूक्रेनी अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने मारियुपोल शहर के बाहर सामूहिक कब्रों की पहचान की है। उनका कहना है कि यह यूक्रेनी नागरिकों के खिलाफ रूसी युद्ध अपराधों के ताजा सबूत हैं।

ऐसा दावा है कि यह तस्वीरें अमेरिकी सैटेलाइट इमेजरी कंपनी Maxar टेक्नोलॉजी ने जुटाए हैं। तस्वीरों में मारियुपोल के पश्चिम में लगभग 12 मील (19 किलोमीटर) शहर, मानहुश के उत्तर-पश्चिमी किनारे पर एक साइट पर 200 से ज्यादा नई कब्रें दिख रही हैं।

यूक्रेनी अधिकारियों के अनुसार, 1 मार्च को रूसी सेना की घेराबंदी के बाद से लगातार बमबारी की जा रहे मारियुपोल में, अनुमानित 100,000 लोग फंसे हुए हैं। यूक्रेन के अधिकारियों का दावा है कि हमले के दौरान शहर में 20,000 से अधिक लोग मारे गए हैं।

मैसेजिंग ऐप टेलीग्राम पर गुरुवार को एक पोस्ट में, मारियुपोल के मेयर के सलाहकार पेट्रो एंड्रीशचेंको ने कहा कि रूसी ट्रकों ने मैनहुश में “डंपिंग” करने से पहले, पूरे शहर से शव इकट्ठा किए थे।

Leave a Comment