केजरीवाल पर भड़के पंजाब के मुख्यमंत्री चन्नी, बोले- दिल्ली CM पर..

The News Air- पंजाब में एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) की रेड के बाद CM चरणजीत चन्नी और आप संयोजक अरविंद केजरीवाल में तल्ख़ी बढ़ गई है। शुक्रवार को चमकौर साहिब से चुनाव प्रचार शुरू करते हुए सीएम चन्नी ने केजरीवाल के ख़िलाफ़ मोर्चा खोल दिया है। चन्नी ने कहा कि केजरीवाल ने लाइन क्रॉस कर दी है। वह मानहानि का केस करेंगे। केजरीवाल ने रिश्ता करवाने की बात कहकर मेरी बहन-बेटियों को भी बुरा कहा। इसके लिए मैंने पार्टी से परमिशन माँगी है। मैं केजरीवाल को माफ़ी देकर नहीं छोड़ंगा।

यह भी पढ़ें- BJP का लोक इंसाफ़ पार्टी से गठबंधन टूटा, लुधियाना के बैंस भाई मांग रहे थे इतनी सीटें

माफ़ी माँगकर भाग जाते हैं केजरीवाल

सीएम चन्नी ने कहा कि केजरीवाल की आदत है कि पहले बड़े इल्ज़ाम लगाते हैं और चुनाव ख़त्म होने के बाद माफ़ी माँगकर भाग जाते हैं। पहले भी नितिन गड़करी, अरूण जेटली और बिक्रम मजीठिया के मामले में केजरीवाल ऐसा कर चुके हैं। मेरे मामले में केजरीवाल हर हद पार कर रहे हैं।

मेरे घर से पैसे नहीं मिले, रुपयों के साथ मेरी फ़ोटो क्यों?

सीएम चन्नी ने कहा कि ईडी ने रेड की और रुपए बरामद किए तो इसमें उनका क्या क़सूर है। पैसे किसी और से मिले लेकिन मेरी फ़ोटो नोटों के साथ लगाकर बदनाम किया जा रहा है। अगर मेरे घर से रुपए मिलते तो मैं ज़िम्मेदार था। मेरी इतनी ग़लती जरुर है कि रिश्तेदार पर पर नज़र नहीं रख सका। उन्होंने कहा कि केजरीवाल का भतीजा भी 130 करोड़ रुपए समेत पकड़ा गया था।

यह भी पढ़ें-घमासान से बैकफुट पर आई कांग्रेस, इन सीटों पर बदल सकते हैं कैंडिडेट, 12 विधायकों की टिकट दांव पर

केजरीवाल 200 करोड़ कहां से ख़र्च कर रहे

सीएम चन्नी ने सवाल उठाए कि पंजाब में जब से चुनाव आचार संहिता लागू हुई, उनके कहीं विज्ञापन नहीं है। इसके बावज़ूद केजरीवाल 200 करोड़ रुपया ख़र्च कर रहे हैं। यह पैसा कहां से ख़र्च कर रहे?, केजरीवाल को बताना चाहिए।

भगवंत मान और सीएम चेहरे की कॉल पर भी तंज़

सीएम चरणजीत चन्नी ने भगवंत मान पर तंज़ कसा। उन्होंने बिना नाम लिए कहा कि शराब छोड़कर कोई कैसे पंजाब के लिए भगत सिंह बन सकता है। कहा जा रहा है कि शराब छोड़कर बड़ी क़ुर्बानी कर दी। जिसने अपनी मां की क़सम खाकर भी शराब नहीं छोड़ी, वह पंजाब को कैसे चलाएंगे?। सीएम चन्नी ने यह भी कहा कि सीएम चेहरे के चुनाव के लिए 22 लाख कॉल भी फ़र्ज़ी है। केजरीवाल को इसका हिसाब देना चाहिए।

Leave a Comment