मान के दिल्ली दौरे पर सियासी बवाल, विरोधी बोले-पंजाब को न बेचो

The News Air: पंजाब के CM भगवंत मान के दिल्ली दौरे को लेकर सियासी बवाल मच गया है। पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान नवजोत सिद्धू ने इसे प्रोपेगेंडा क़रार दिया है। वहीं भाजपा ने नॉलेज शेयरिंग के MOU को मेमोरेंडम ऑफ़ सरेंडर बताया। उन्होंने कहा कि आधिकारिक रूप से पंजाब को अरविंद केजरीवाल के हवाले किया जा रहा है। पंजाब सरकार में पूर्व कांग्रेसी मंत्री राजकुमार वेरका ने कहा कि CM मान ने दिल्ली को पंजाब ठेके पर दे दिया है। मान और दिल्ली सीएम के बीच एजुकेशन और हेल्थ पर आज नॉलेज शेयरिंग समझौता साइन हो रहा है।

1 2

8 साल MP रहे, स्कूल-मोहल्ला क्लीनिक क्यों नहीं गए? : सिद्धू

नवजोत सिद्धू ने कहा कि CM भगवंत मान 8 साल तक सांसद के तौर पर दिल्ली में रहे। तब दिल्ली के स्कूल और मोहल्ला क्लीनिक का दौरा क्यों नहीं किया। दिल्ली मॉडल को सांसद निधि से अपने लोकसभा क्षेत्र संगरूर में क्यों लागू नहीं किया। सिद्धू ने मान को कहा कि आपका दिल्ली दौरा प्रोपेगेंडा और राज्य के ख़ज़ाने को नुक्सान के अलावा कुछ नहीं है।

8 1650948948

यह मेमोरेंडम ऑफ़ सरेंडर

भाजपा के स्टेट जरनल सेक्रेटरी सुभाष शर्मा ने CM मान से पूछा कि क्या यह बात सही है कि पंजाब और दिल्ली सरकार के बीच समझौता हो रहा है?। क्या सच में पंजाब आधिकारिक रूप से अरविंद केजरीवाल के हवाले किया जा रहा है। यह MOU नहीं बल्कि मेमोरेंडम ऑफ़ सरेंडर है। पंजाब के स्वाभिमान पर हमले को पंजाबी कभी स्वीकार नहीं करेंगे।

असली डोर केजरीवाल के हाथ, पंजाब को न बेचें केजरीवाल

पूर्व मंत्री राजकुमार वेरका ने कहा कि बिल्ली थैले से बाहर आ चुकी है। हम पहले ही कह रहे थे कि असली डोर केजरीवाल के हाथ में है। केजरीवाल ने अब सारा पंजाब आउटसोर्सिंग कर लिया है। पंजाब दिल्ली को ठेके पर दे दिया है। उन्होंने सीएम मान से अपील की कि पंजाब को न बेचो। पंजाब को ठगों के आगे गिरवी न रखो।

Leave a Comment