मुस्तफ़ा ने कहा नियुक्ति का पता चलते ही आंखों में आ गए आंसू, पद को किया अस्वीकार

चंडीगढ़, 12 अगस्त (The News Air)

पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनने के उपरांत बीते दिन नवजोत सिद्धू ने पहला बड़ा फ़ैसला लेते हुए अपने 4 सलाहकार नियुक्‍त किए थे। वहीं नियुक्‍त किए गए सलाहकारों में से पूर्व डीजीपी मोहम्‍मद मुस्तफ़ा ने इस पद को अस्वीकार करते हुए स्पष्ट इनकार कर दिया है। मुस्तफ़ा ने कहा कि वह राजनीतिक भूमिकाओं के लिए नहीं बने हैं।

मुस्तफ़ा ने कहा कि मैंने नवजोत सिद्धू को दिल से धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में कम से कम एक आदमी है, जिसने पिछले साढ़े 4 साल में मेरे बारे में सोचा। यह बहुत ही मार्मिक भाव है। मुस्तफ़ा ने भरे मन से कहा कि नियुक्ति के बारे में पता चलते ही मेरी आंखों में आंसू आ गए, लेकिन मैंने इस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया है क्योंकि मैं राजनीतिक पदों के लिए तैयार नहीं हूं। 

उन्होंने बताया कि उन्हें इस ऑफर के बारे में मीडिया और कुछ लोगों के ज़रिए पता चला। अधिक विचार किए बिना मैंने पूरी विनम्रता के साथ इस प्रस्ताव को अस्वीकार करते हुए दिल्ली में सूचित कर दिया। हालांकि, पूर्व डीजीपी ने कहा कि वह कांग्रेस की बेहतरी के लिए काम करते रहेंगे। बता दें कि, मुस्तफ़ा की पत्नी रजिया सुल्ताना मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के मंत्रिमंडल में मंत्री हैं। पहले वह मुख्यमंत्री की क़रीबी मानी जाती थीं। 

Leave a Comment