पाकिस्तान में फिर हिंदू युवती का अपहरण: सिंध में 14 साल की नाबालिग को…

अमृतसर (The News Air) पाकिस्तान में हिंदू लड़कियों को किडनैप कर इस्लाम कबूल करवाने की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं। पाकिस्तान के सिंध में एक बार फिर 14 साल की नाबालिग को किडनैप करके इस्लाम कबूल करवाया। इस महीने सिंध में यह दूसरी घटना सामने आई है।

इस्लाम कबूलने के बाद बनाया गया सर्टिफिकेट।

इस्लाम कबूलने के बाद बनाया गया सर्टिफिकेट।

मिली जानकारी के अनुसार सिंध के टांडो अल्लायार इलाके में 14 साल की हिंदूी जमना के साथ यह हरकत हुई है। तकरीबन एक सप्ताह पहले जमना घर की तरफ जा रही थी। इस दौरान उसे अगवा कर लिया गया। अब उसके इस्लाम कबूले जाने का सर्टिफिकेट भी सामने आ गया है। गरीब परिवार इससे दुखी है और इंसाफ के लिए पाकिस्तान में धक्के खाने को मजबूर है।

नहीं मिल रहा इंसाफ

24 सितंबर 2022 को नसरपुर इलाके से मीना मेघवार नाम की 14 साल की नाबालिग का अपहरण कर लिया गया था। इसके बाद मीरपुरखास कस्बे में घर लौटते समय एक अन्य शादीशुदा महिला का अपहरण कर लिया गया था।

मीरपुरखास कस्बे के ही रवि कुर्मी नाम के एक हिंदू व्यक्ति ने आरोप लगाया कि उसकी पत्नी राखी का अपहरण कर लिया गया। बाद में वह एक मुस्लिम के साथ दिखी। उसने इंसाफ की मांग की तो पुलिस ने दावा किया कि राखी ने अपनी मर्जी से इस्लाम अपनाया है और अहमद से निकाह किया है।

खारिज किया गया था जबरन धर्मांतरण के खिलाफ विधेयक

अक्टूबर 2021 में पाकिस्तान में एक संसदीय समिति ने जबरन धर्मांतरण के खिलाफ विधेयक को खारिज कर दिया था। जिसमें तत्कालीन धार्मिक मामलों के मंत्री नूरुल हक कादरी ने कहा था कि जबरन धर्मांतरण के खिलाफ कानून बनाने के लिए पर्यावरण अनुकूल नहीं है। मंत्री ने यहां ​​दावा किया था कि जबरन धर्मांतरण के खिलाफ एक कानून देश में शांति भंग कर सकता है। अल्पसंख्यकों को और अधिक कमजोर बना सकता है।

Leave a Comment