हिमाचल की राज्य सरकार ने जारी नई गाइडलाइंस, अब आसान नहीं होगा सैलानियों के लिए वादियां में घूमना

हिमाचल, 18 जून (The News Air)
हिमाचल प्रदेश की राज्य सरकार ने कुछ दिन पहले ही कोरोना के घटते मामलों को देखते हुए हिमाचल की सीमाओं को सैलानियों के लिए खोलने के आदेश जारी कर दिए है। इन गाइडलाइंस के अनुसार, हिमाचल घूमने के लिए पर्यटकों को RT-PCR टेस्ट नहीं करवाना होगा। इसके साथ ही राज्य में धारा 144 भी हटा दी गई है।
राज्य सरकार द्वारा कोरोना गाइडलाइंस में ज़रा सी भी ढील मिलते ही हाईवे पर हज़ारों गाड़ियों की लाइनें लगनी शुरू हो गई। दरअसल बीते रविवार को वीकेंड मनाने के लिए लोग हज़ारों की संख्या में हिमाचल की वादियां में घूमने के लिए निकल पड़े, बड़ी संख्या में लोगों के एक साथ आने से हाईवे पर रास्ता जाम हो गया, जिस कारण आवागमन पूरी तरह से बंद हो गया।
इस स्थिति को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने पर्यटकों के लिए नई गाइडलाइन जारी कर दी है। इसके चलते दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों के लिए हिमाचल प्रदेश में प्रवेश करने के लिए कोविड- 19 ई-पास लेना अनिवार्य होगा।
गाइडलाइंस के अनुसार हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि हालांकि राज्य सरकार ने अब RT-PCR नेगेटिव रिपोर्ट को हटा दिया है, परन्तु इसका मतलब यह नहीं है कि पर्यटकों को कोविड- 19 नियमों का उल्लंघन करने की अनुमति दे दी है। उन्होंने कहा कि राज्य में आने वाले सैलानियों को कोविड ई-पास सॉफ्टवेयर पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य होगा ताकि उन पर नज़र रखी जा सके।
सीएम के अनुसार कोविड ई-पास के लिए लोगों को अपने आगमन की जानकारी के साथ-साथ बाकि सभी डिटेल्स ऑनलाइन सिस्टम में दर्ज़ करनी होगी। इससे हिमाचल आने वाले पर्यटकों की जानकारी को स्टेकहोल्डर के साथ साँझा किया जाएगा, जिससे किसी तरह की कोई लापरवाही न हो।
शिमला के पुलिस अधीक्षक मोहित चावला के मुताबिक़ RT-PCR नियम हटाए जाने पर कम से कम 5000 वाहन शोघी बैरियर से शिमला के अंदर दाखिल हुए। उनका मानना है कि वीकेंड के दौरान पर्यटकों की अवगमन में वृद्धि हो सकती है। इसलिए यह सुनिश्चित करना ज़रूरी है कि सभी पर्यटक कोविड प्रोटोकॉल का सख़्ती के साथ पालन करें।
उन्होंने यह भी कहा कि पूरे ज़िले में पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे जो सभी सैलानियों के आने-जाने पर नज़र रखेंगे। पेट्रोलिंग पार्टियां पर्यटकों का मार्गदर्शन करेंगी और यह सुनिश्चित करने का प्रयास करेंगी कि पर्यटकों द्वारा कोविड प्रोटोकॉल का पालन सख़्ती से किया जाए।
सरकार द्वारा कोविड नियमों में ढील देने के बाद पिछले हफ़्ते सैकड़ों पर्यटक हिमाचल पहुंचे थे। इससे होटल ऑक्यूपेंसी एक हफ़्ते के अंदर लगभग 40 प्रतिशत तक बढ़ गई। रिपोर्ट्स के मुताबिक़ क़रीब 10 हज़ार लोगों ने हिमाचल में प्रवेश करने के लिए कोविड ई-पास के लिए आवेदन किया है। इनमें से 7 हज़ार पास ग़लत जानकारी देने की वजह से खारिज कर दिए गए हैं।
शिमला में सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघना करते पाए गए पर्यटकों के ख़िलाफ़ 7 FIR दर्ज़ की गईं। रिपोर्ट्स के अनुसार पिछले एक वर्ष के दौरान मास्क न पहनने पर 8000 लोगों पर जुर्माना लगाया गया और उनसे 52 लाख रुपये जुर्माने के तौर पर वसूले जा चुके हैं।

Leave a Comment