गरीब कोविड मरीजों को मुफ्त भोजन मुहैया करवाएगी पंजाब पुलिस

मुख्यमंत्री ने पका हुआ मुफ्त भोजन लेने के लिए हेल्पलाइन नंबर 181/112 का किया ऐलान

चंडीगढ़, 13 मईः
पंजाब में शुक्रवार से गरीब और बेसहारा कोविड मरीज अपनी भूख मिटाने के लिए भोजन लेने के लिए हेल्पलाइन नंबर 181 और 112 पर काल कर सकते हैं और पंजाब पुलिस विभाग के द्वारा उनके घरों तक तैयार भोजन मुफ्त मुहैया करवाया जायेगा।
इस मानवतावादी प्रयास का ऐलान मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की अध्यक्षता अधीन हुई मंत्रीमंडल की मीटिंग के दौरान किया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने ऐलान किया, ‘हम पंजाब में किसी को भी भूखा नहीं सोने देंगे।’
ऐसे मरीज दिन-रात किसी भी समय पर इन नंबरों पर काल कर सकते हैं और पंजाब पुलिस की तरफ से कोविड रसोईयों और डिलिवरी देने वाले लड़कों के द्वारा उनके घर तक पका हुआ भोजन मुहैया करवाया जायेगा।
डी.जी.पी. दिनकर गुप्ता ने बताया कि इस उद्देश्य के लिए विभाग ऐसी रसोईयों और डिलिवरी एजेंटों के साथ संबंध बना रहा है। उन्होंने राज्य में गरीब कोविड मरीजों के लिए भोजन यकीनी बनाने के लिए पंजाब पुलिस की तरफ से किये गए प्रयास पर मान महसूस किया।
यह सुविधा शुक्रवार को प्रातःकाल 10 बजे कार्यशील होगी जिससे पंजाब में कहीं भी रह रहे कोविड मरीज भोजन न मिलने की सूरत में 181 और 112 हेल्पलाइन नंबरों पर दिन -रात किसी भी समय पर काल कर सकते हैं जिनको उनके घर पका हुआ भोजन मुहैया करवाया जायेगा।
मुख्यमंत्री के हुक्मों पर कोविड की पहली लहर के दौरान भी पंजाब ने 112 एमरजैंसी हेल्पलाइन को मुफ्त भोजन मुहैया करवाने के लिए हेल्पलाइन नंबर में तबदील कर दिया था। विभाग ने बीते साल अप्रैल-जून महीने के दौरान गैर-सरकारी संस्थाओं, गुरुद्वारों, मंदिरों और अन्य धार्मिक संस्थाओं की सक्रिय हिस्सेदारी से पंजाब के लोगों तक 12 करोड़ पका हुआ और सूखा राशन सफलता से पहुँचाया था। इस मानवतावादी सेवा की भावना का प्रगटावा करते हुए पंजाब पुलिस के बहुत से मुलाजिमों ने अपनी जेबों में से योगदान डाला था और पुलिस लाईन में कम्युनिटी किचन स्थापित करने के साथ-साथ और यहाँ तक इस उद्देश्य की खातिर अपने घरों में भी भोजन तैयार किया था।

Leave a Comment