दूसरी बार फिर CM का हेलिकॉप्टर उड़ने से रोका, भड़के चन्नी बोले- मैं..

The News Air- पंजाब में PM नरेंद्र मोदी के दौरे को लेकर नया राजनीतिक बवाल शुरू हो गया है। इस बार मामला सीएम चरणजीत चन्नी के हेलिकॉप्टर को लेकर हैं। चन्नी का हेलिकॉप्टर चंडीगढ़ के बाद सुजानपुर में भी उड़ने से रोक दिया गया। सीएम वहाँ से जालंधर जाना चाहते थे। जहां पीएम नरेंद्र मोदी की रैली थी। इसके बाद वह सड़क मार्ग से जाने को मजबूर हुए। इस पर सीएम चन्नी ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि राजनीतिक वजहों से उन्हें प्रचार नहीं करने दिया जा रहा। वह प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं, कोई आतंकवादी नहीं हैं।

यह भी पढ़ें- पंजाब में PM दौरे का नया विवाद, नो फ्लाई ज़ोन बता CM के हेलिकॉप्टर को..
वहीं, पीएम नरेंद्र मोदी ने भी जालंधर रैली में कहा कि जब वह गुजरात के सीएम थे और उन्हें भाजपा ने पीएम उम्मीदवार बनाया था। तब वह पठानकोट से हिमाचल में प्रचार के लिए जाना चाहते थे। उस वक़्त कांग्रेस के युवराज (राहुल गांधी) वहाँ आए थे। जिस वजह से उनका भी हेलिकॉप्टर रोक दिया गया था। भाजपा नेताओं का कहना है कि यह पीएम की सुरक्षा का मामला है। सीएम को इस पर सियासत नहीं करनी चाहिए।

पहले सुबह चंडीगढ़ में रोका गया था हेलिकॉप्टर

इससे पहले सुबह चन्नी को हेलिकॉप्टर से होशियारपुर जाना था। जहां उन्हें राहुल गांधी की रैली में शामिल होना था। इसके लिए उन्हें चंडीगढ़ से उड़ान भरनी थी। हालांकि पीएम के दौरे को लेकर पंजाब में नो फ्लाई ज़ोन बनाया गया है। जिस वजह से चन्नी क़रीब एक घंटे तक हेलीपैड पर ही हेलिकॉप्टर में बैठे रहे।इसके बाद उन्हें घर लौटना पड़ा। सुबह इजाज़त न मिलने के बाद भी सीएम चन्नी ने कहा कि उन्हें 11 बजे की इजाज़त मिली थी लेकिन ऐन मौक़े पर मना कर दिया गया। हालांकि अफ़सरों से बातचीत के बाद उन्हें हेलिकॉप्टर से जाने की इजाज़त मिल गई।

पहले दौरे में सुरक्षा चूक का मुद्दा उठा

इससे पहले 5 जनवरी को पीएम नरेंद्र मोदी के दौरे को लेकर सुरक्षा चूक का मुद्दा बना था। फिरोजपुर में उनका क़ाफिला क़रीब 20 मिनट तक फ्लाईओवर पर खड़ा रहा। जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट इसकी जांच करवा रहा है। अब पीएम के पंजाब के दौरे को लेकर नई कंट्रोवर्सी पैदा हो गई है।

Leave a Comment