DGCA ने SpiceJet के 90 पायलटों को Boeing 737 Max उड़ाने से रोका, जानें क्या है वजह

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने स्पाइसजेट (SpiceJet) पर बड़ी कार्रवाई की है। DGCA ने स्पाइसजेट के 90 पायलटों को बोइंग 737 मैक्स (Boeing 737 MAX) उड़ाने से रोक दिया है। DGCA ने सिम्युलेटर ट्रेनिंग में खामियों का पता लगाने के बाद यह कार्रवाई की है। रिपोर्ट के मुताबिक, इन पायलटों को राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में एक फैसिलिटी में सिम्युलेटर ट्रेनिंग दी गई थी।

इस कथित चूक के बाद एयरलाइन का पायलट ट्रेनिंग भी नियामक की जांच के दायरे में आ गया है। बता दें कि भारत में बोइंग 737 मैक्स पर से प्रतिबंध 2021 में हटा लिया गया था।

स्पाइसजेट का बयान

स्पाइसजेट के एक प्रवक्ता ने कहा कि डीजीसीए ने 90 पायलटों के ट्रेनिंग प्रोफाइल पर एक ऑब्जर्वेशन किया था। इन्हें बोइंग 737 मैक्स (Boeing 737 MAX) उड़ाने से रोक लगाने के निर्देश दिया गया है। ये पायलट डीजीसीए की संतुष्टि के लिए फिर से ट्रेनिंग से गुजरेंगे।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, स्पाइसेजट एयरलाइन के बेड़े में वर्तमान में 13 Boeing 737 Max विमान हैं जिनमें से वह 11 का संचालन करती है। एयरलाइन का कहना है कि इन विमानों पर संचालित होने वाली 60 दैनिक उड़ानें प्रभावित नहीं होंगी। मैक्स पर 650 प्रशिक्षित पायलटों में से 560 अभी भी उपलब्ध हैं।

Source

Leave a Comment