CG के मज़दूर की UP में पीट-पीटकर हत्या:परिवार का आरोप- ईंट-भट्‌ठा..

The News Air- छत्तीसगढ़ के एक युवक की उत्तर प्रदेश में पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। युवक परिवार के साथ ईंट-भट्‌ठा पर काम करने गया था। परिजन का आरोप है कि उन्हें खाने के लिए भी नहीं दिया गया। मज़दूरी मांगने पर संचालक ने बुरी तरह से पीटा। रिपोर्ट भी नहीं कराने दी। एंबुलेंस से जांजगीर भिजवा दिया। जांजगीर पुलिस ने FIR दर्ज़ कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

जांजगीर के कुदरी गांव निवासी राजगीर सोनाझरी (40) अपनी पत्नी बसंत बाई सोनाझरी और तीन बेटियों को लेकर क़रीब एक महीने पहले प्रयागराज में ईंट-भट्‌ठे पर काम करने के लिए गया था। वहाँ हंडिया स्थित प्रवीण त्रिपाठी के ईंट-भट्‌ठा पर काम करने लगा। कुछ दिन बाद मौसम ख़राब होने के चलते काम बंद हो गया। आरोप है कि इस बीच ईंट-भट्‌ठा संचालक की ओर से उनको पैसों का भुगतान तक नहीं किया गया।
परिजन कहना है कि जब भूख से मरने की नौबत आ गई तो मज़दूर राजगीर 24 जनवरी को प्रवीण त्रिपाठी के पास पैसों की मांग करने गया। आरोप है कि प्रवीण त्रिपाठी ने काम बंद होने के बावज़ूद पैसे मांगने पर राजगीर को बुरी तरह से पीटा। हालत गंभीर होने पर उसे अस्पताल में भर्ती करा दिया, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। इसके बाद परिजनों को रिपोर्ट भी दर्ज़ नहीं कराने दी और परिवार को धमकी देकर शव एंबुलेंस से भिजवा दिया।

धमकी दी- रिपोर्ट दर्ज़ कराने पर सबको मार कर गंगा में डाल देंगे

यहां पहुंचने के बाद परिजनों ने जांजगीर पुलिस को सूचना दी। परिजनों ने पुलिस को बताया कि जब उन्होंने थाने में रिपोर्ट दर्ज़ कराने की बात कही तो ईट-भट्ठा संचालक प्रवीण त्रिपाठी ने उन्हें धमकी दी। कहा कि थाने जाओगे तो कोई जिंदा नहीं जाएगा। तुम सबको मारकर गंगा नदी में फेंक देंगे।

महिला दलाल ले गई थी मज़दूरों को

परिजनों ने बताया कि एक माह पहले ज़िले के 40 मज़दूरों को पामगढ़ की महिला दलाल सहोदरा बाई काम दिलाने की बात कहकर ले गई थी। उनके साथ वह भी गए थे। प्रवीण त्रिपाठी के ईंट-भट्टा में क़रीब 3 सप्ताह तक काम किया, लेकिन मौसम ख़राब होने के चलते ईंट बनना बंद हो गई। ईंट-भट्टा मालिक ने खाने के लिए लिए सप्ताह भर में 7 सौ रुपए दिए। जिससे गुज़ारा नहीं चल पा रहा था। घटना के बाद से दलाल महिला का कोई पता नही चल रहा है।

Leave a Comment