Air India handover: टाटा ग्रुप की हुई एअर इंडिया, लेटलतीफी दूर कर वर्ल्ड क्लास..

The News Air- (नई दिल्ली) एअर इंडिया (Air India) आज से टाटा संस की हो गई। गुरुवार को सरकारी स्वामित्व वाली कंपनी ने मैनेजमेंट कंट्रोल के साथ ही एअर इंडिया के 100 प्रतिशत शेयरों को टैलेस प्राइवेट लिमिटेड को ट्रांसफर कर दिया। इसके साथ ही कंपनी की रणनीतिक विनिवेश पूरा हो गया। डिपार्टमेंट ऑफ़ इन्वेस्टमेंट एंड पब्लिक एसेट मैनेजमेंट (DIPAM) के सचिव तुहीन कांत पांडेय ने गुरुवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि एअर इंडिया में सरकार की पूरी हिस्सेदारी टाटा संस की सब्सिडियरी कंपनी टैलेस प्राइवेट लिमिटेड (Tata Group) को ट्रांसफर कर दी गई है। अब से टाटा ग्रुप एअर इंडिया का नया मालिक है।

लेटलतीफी दूर करना पहली प्राथमिकता, वर्ल्ड क्लास बनाएंगे

हैंडओवर के मौक़े पर टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने कहा कि यह प्रक्रिया पूरी हो गई है। उन्होंने कहा- एअर इंडिया की घर वापसी से हम काफ़ी ख़ुश हैं। हमारी कोशिश इस एयरलाइन को वर्ल्ड क्लास बनाने की है। एअर इंडिया के मुताबिक़, महाराजा की कमान संभालते ही टाटा ग्रुप सबसे पहले एअर इंडिया के लेट लतीफ़ा वाले दाग़ को धुलेगा। टाटा ग्रुप की पहली कोशिश होगी कि एयर इंडिया की फ्लाइट का संचालन समय पर हो। उन्होंने बताया कि नए बोर्ड ने एअर इंडिया का कार्यभार संभाल लिया है।

18 हज़ार करोड़ में हुआ सौदा

क़रीब 69 साल पहले टाटा से एयर इंडिया कंपनी को लेने के बाद उसे अब फिर टाटा ग्रुप को सौंपा गया है। अधिकारियों ने कहा कि एअर इंडिया को टाटा ग्रुप में वापस पाकर हम पूरी तरह से ख़ुश हैं। हम विश्व स्तरीय एयरलाइन के रूप में सभी के साथ काम करने के लिए उत्सुक हैं।

सरकार ने पिछले साल अक्टूबर में एअर इंडिया की बिक्री के लिए टाटा समूह के साथ 18,000 करोड़ रुपए में शेयर खरीद समझौता किया था। इस सौदे में एअर इंडिया एक्सप्रेस और उसकी इकाई एआईएसएटीएस की बिक्री भी शामिल हैं।

Leave a Comment