Salman Khurshid की बुक पर बवाल: चिदंबरम बोले-नो वन किल्ड जेसिका, वैसे किसी ने मस्जिद नहीं तोड़ी

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता सलमान ख़ुर्शीद( Salman Khurshid) की क़िताब सनराइज ओवर अयोध्या (Sunrise Over Ayodhya: Nationhood in Our Times) ने विवाद खड़ा कर दिया है। 10 नवंबर को इस क़िताब के विमोचन पर पूर्व गृहमंत्री पी. चिदंबरम(P.Chidambaram) ने कहा कि जिस तरह से जेसिका(No One Killed Jessica) को किसी ने नहीं मारा, उसी तरह बाबरी मस्जिद को भी किसी ने नहीं गिराया। वे भाजपा पर तंज़ कस रहे थे।

ख़ुर्शीद के ख़िलाफ़ शिकायत

क़िताब पर विवाद छिड़ते ही सलमान ख़ुर्शीद के ख़िलाफ़ दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज़ कराई गई है। आरोप है कि उन्होंने हिन्दुत्व की आतंकवाद से तुलना करके उसे बदनाम करने की कोशिश की है। वकील विवेक गर्ग ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से शिकायत करते हुए केस दर्ज़ करने का अनुरोध किया है। ख़ुर्शीद ने क़िताब में ज़िक्र किया है कि हिंदुत्व ISIS और बोको हरम जैसे जिहादी इस्लामी समूहों के समान है। इस पर भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने टिप्पणी करते हुए कहा-हम उस व्यक्ति से और क्या उम्मीद कर सकते हैं, जिसकी पार्टी ने सिर्फ़ इस्लामी जिहाद के साथ समानता लाने के लिए मुस्लिम वोट पाने भगवा आतंकवाद शब्द गढ़ा।

चिदंबरम ने यह कहा था

चिदंबरम ने क़िताब के विमोचन पर कहा कि 6 दिसंबर 1992 को जो कुछ भी हुआ, वह बेहद ग़लत था। इसने संविधान को बदनाम किया। सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले के बाद एक साल के अंदर सभी को बरी कर दिया गया। इसलिए जैसे किसी ने जेसिका को नहीं मारा, वैसे किसी ने बाबरी मस्जिद को नहीं गिराया। चिदंबरम ने यह भी जोड़ा कि यह निष्कर्ष उन्हें हमेशा परेशान करेगा कि जवाहरलाल नेहरू, महात्मा गांधी, एपीजे अब्दुल कलाम के इस देश में और आज़ादी के 75 साल बाद भी यह कहते हुए शर्म नहीं आती कि किसी ने बाबरी मस्जिद को नहीं तोड़ा।

ख़ुर्शीद ने सुप्रीम की सराहना की

क़िताब में सलमान ख़ुर्शीद ने कहा कि अयोध्या विवाद को लेकर समाज में बँटवारे की स्थिति थी। सुप्रीम कोर्ट ने उसका सही समाधान निकाला। कोर्ट ने अपने फ़ैसले में काफ़ी दूर देखने की कोशिश की है। यह एक ऐसा फ़ैसला है, जिसमें ये न लगे कि कि हम हारे या तुम जीते। हालांकि ख़ुर्शीद ने भाजपा पर तंज़ कसा कि भाजपा ने कभी ऐसा ऐलान तो नहीं किया कि वे जीत गए हैं, लेकिन इसके संकेत देते रहते हैं। ख़ुर्शीद ने अयोध्या उत्सव पर सवाल उठाते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि अयोध्या उत्सव एक ही पार्टी का उत्सव है।

Leave a Comment