Bitcoin, Ether समेत ज्‍यादातर क्रिप्‍टोकरेंसी में गिरावट जारी, जानें इसका यूरोप कनेक्‍शन

प्रूफ-ऑफ-वर्क (PoW) क्रिप्‍टोकरेंसी को लेकर आज यूरोप में वोटिंग शुरू होने वाली है। इसके चलते दुनियाभर के क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में गिरावट देखने को मिल रही है। यह वोटिंग यूरोपीय यूनियन के मार्केट में क्रिप्टोकरेंसी के भविष्य का फैसला करेगी। तय होगा क्या वो क्रिप्टो एक्सचेंजों पर जारी रहेंगी या बैन होंगी। इस बीच दुनिया की सबसे कीमती और बड़ी PoW क्रिप्टोकरेंसी ‘बिटकॉइन’ ने गिरावट दर्ज की है। भारतीय एक्सचेंज कॉइनस्विच कुबेर पर बिटकॉइन (Bitcoin) की मौजूदा कीमत 40,345 डॉलर (लगभग 31 लाख रुपये) है। ग्‍लोबल एक्सचेंजों पर भी बिटकॉइन की कीमत 38000 डॉलर (लगभग 29 लाख रुपये) के आसपास बनी हुई है। पिछले 24 घंटों में इसमें 1.35 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। CoinGecko के डेटा के अनुसार, पिछले एक सप्ताह में  बिटकॉइन बहुत कम चली है। इसकी वीक-ऑन-वीक वृद्धि 0.3 प्रतिशत है।

कुछ ऐसा ही हाल Ether का भी है। दुनिया की इस दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्‍टोकरेंसी ने शनिवार को बढ़त देखी थी, लेकिन रविवार को मिली गिरावट से पुरानी बढ़त भी खत्‍म हो गई। मौजूदा वक्‍त में कॉइनस्विच कुबेर पर Ether का मूल्य 2,680 डॉलर (लगभग 2 लाख रुपये) है। ग्‍लोबल एक्सचेंजों पर भी इस क्रिप्‍टोकरेंसी का मूल्‍य 2,600 डॉलर (लगभग 2 लाख रुपये) से थोड़ा ऊपर है। पिछले 24 घंटों में इस करेंसी ने 0.12 प्रतिशत की गिरावट देखी है। CoinGecko के आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले एक महीने में Ether का वैल्‍यू लगभग 12 फीसदी गिर गई है।

Gadgets 360 का क्रिप्टोकरेंसी प्राइस ट्रैकर बताता है कि पिछले 24 घंटों में ग्‍लोबल क्रिप्टो मार्केट कैप 2.84 फीसदी कम हो गया है। Terra और Cardano को छोड़कर लगभग सभी पॉपुलर altcoins की वैल्‍यू में गिरावट आई है। Avalanche, Polygon, Polkadot, Cosmos, Uniswap और Binance Coin की वैल्‍यू में भी गिरावट आई है।

मीम कॉइंस Shiba Inu और Dogecoin में अच्‍छी तेजी देखा जाना अभी बाकी है। पिछले 24 घंटों में 0.55 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद Dogecoin की वैल्‍यू वर्तमान में 0.12 डॉलर (लगभग 9.5 रुपये) है, वहीं Shiba Inu का मूल्य 0.000023 डॉलर (लगभग 0.0017 रुपये) है और इसने पिछले 24 घंटों में 1.18 फीसदी की गिरावट देखी है। बहरहाल, यूरोप में होने जा रही वोटिंग के बाद ही यह साफ हो पाएगा कि क्रिप्‍टो मार्केट कहां जाकर रुकेगा। अगर वोटिंग से सकारात्‍मक संकेत नहीं मिले, तो गिरावट का दौर जारी रह सकता है।

Leave a Comment