साढू की बेटी को किडनैप कर खेतों में फेंका: बोरी में डाली बच्ची को..

The News Air- अमृतसर पंजाब के अमृतसर में साढू के साथ झगड़ा होने के बाद एक युवक ने अपने बुआ के बेटे के साथ मिलकर उसकी 4 साल की छोटी बच्ची का अपहरण कर लिया। दोनों ने बच्ची को मार देने की नीयत से उसे बोरी में डाला और खेतों में फेंक आए। लेकिन वहां से गुजर रहे युवकों की नजर उस पर पड़ गई और लोगों ने आरोपी रत्न खुर्द निवासी गुरदित सिंह को पकड़ पुलिस के हवाले कर दिया, जबकि दूसरा आरोपी खंगूरी मौके से भागने में सफल रहा।

बच्ची को चुप करवा उसके परिवार के बारे में पूछते हुए गांव के लोग।

बच्ची को चुप करवा उसके परिवार के बारे में पूछते हुए गांव के लोग।

घटना शनिवार गांव सारंगड़ी की है। गांव भींडिया औलख निवासी बलराज सिंह ने बताया कि वह अपने चचेरे भाई स्वर्ण सिंह के साथ मोटरसाइकिल पर सवार होकर अमृतसर की तरफ जा रहे थे। अभी वे लेलियां रोड पर पहुंचे तो उन्होंने दो युवकों को मोटरसाइकिल पर देखा। पीछे बैठे युवक (गुरदित) के हाथ में एक बोरी थी। उनके सामने ही खंगूरी ने मोटरसाइकिल रोका और गुरदित ने बोरी को खेतों में फेंक दिया। जब वह पास पहुंचे तो देखा कि बोरी से बच्चे के रोने की आवाजें आ रही थी। उन्होंने तुरंत आरोपियों का पीछा शुरू कर दिया। उन्होंने गुरदित को पकड़ लिया, जबकि खंगूरी मौके से फरार हो गया।

साढू के साथ हुआ था झगड़ा

पकड़े जाने पर गुरदित ने बताया कि बोरी में बंद बच्ची उसके साढू सारंगड़ी निवासी हरप्रीत सिंह की बेटी है। कुछ दिन पहले ही उसकी व उसके बुआ के बेटे खंगूरी का हरप्रीत के साथ झगड़ा हो गया था। हरप्रीत ने उन्हें काफी बुरा-भला कहा। जिसके बाद दोनों ने मिलकर उसकी बेटी को अगवा कर मार देने का प्लान बनाया था।

पुलिस ने अपहरण का मामला किया दर्ज

थाना लोपोके की पुलिस ने बलराज सिंह के बयानों पर गुरदित व खंगूरी के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कर लिया है। गुरदित को घटना के बाद ही लोगों ने पकड़ लिया, जबकि खंगूरी मौके से भाग गया। फिलहाल बच्ची को उसकी मां कोमलप्रीत के हवाले कर दिया गया है।

Leave a Comment