Kanjhawala Horror, अंजलि की ऑटोप्सी रिपोर्ट में हुए कई खुलासे

Delhi Kanjhawala Horror Case: नए साल के दिन दिल्ली के कंझावला (Kanjhawala) इलाके में हुई दर्दनाक सड़क हादसे में जान गंवाने वाली 20 वर्षीय अंजलि सिंह (Anjali Singh) की ऑटोप्सी रिपोर्ट (Anjali Autopsy Report) सामने आ चुकी है। ऑटोप्सी रिपोर्ट में कई दिल दहला देने वाली जानकारी सामने आई है। न्यूज 18 के अनुसार, अंजलि की ऑटोप्सी रिपोर्ट में बताया गया है कि उसकी खोपड़ी पूरी तरह से खुल गई थी, ब्रेन मैटर गायब था, रीढ़ की हड्डी टूटी हुई थी और उसके शरीर पर कुल 40 चोट के निशान थे।

मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज (MAMC) में डॉक्टरों के एक मेडिकल बोर्ड ने अंजलि की शव की ऑटोप्सी की और दिल्ली पुलिस को उसके शरीर पर कई चोटों की सूचना दी। MAMC की रिपोर्ट ने दिल्ली पुलिस को अंजलि के गायब ब्रेन मैटर गायब होने के बारे में जानकारी दे दी है। अपनी आठ पन्नों की रिपोर्ट में मेडिकल बोर्ड ने बताया कि अंजलि के शरीर पर कुल 40 चोटें थीं।

न्यूज 18 के अनुसार, अंजलि की पसलियां पीछे की तरफ से निकली हुई थीं और वह बुरी तरह से पीस चुकी थीं। ऑटोप्सी रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि अंजलि की कमर के हिस्से में रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर था और उसका लगभग पूरा शरीर मिट्टी और गंदगी से सना हुआ था। डॉक्टरों ने बताया कि ज्यादा खून बहने के चलते अंजलि की मौत हो गई। फिर कार में फंसने के बाद शरीर के अन्य हिस्सों में गंभीर चोटें आई हैं।

एक सूत्र ने रिपोर्ट के हवाले से न्यूज 18 से कहा कि अंजलि की आंतरिक जांच से पता चला है कि उसकी खोपड़ी को उखाड़ा गया था और लटका हुआ था। साथ ही उसका शरीर मिट्टी और गंदगी से सना हुआ था। उसकी स्कल खुली हुई थी। दोनों फेफड़े साफ नजर आ रहे थे।

इसके अलावा सूत्र ने बताया कि सामूहिक रूप से सभी चोटें नेचुरल डेथ का कारण बन सकती हैं। इसके अलावा शरीर पर आई सभी चोटें टक्कर और घसीटने से संभव हैं। हालांकि, अंतिम राय कैमेकिल एनालिसिस और बॉयोलॉजिकल सैंपल की रिपोर्ट मिलने के बाद दी जाएगी।

युवती के निजी अंगों पर चोट के कोई निशान नहीं

अंजलि की प्रारंभिक पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में उसके निजी अंगों पर चोट के कोई निशान नहीं होने की बात सामने आई है। पुलिस सूत्रों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यौन उत्पीड़न के कोई सबूत नहीं मिले हैं। मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में एक चिकित्सकीय बोर्ड ने सोमवार को युवती के शव का पोस्टमॉर्टम किया था। पुलिस के एक सूत्र ने पीटीआई से कहा, ‘‘युवती के निजी अंगों पर चोट के कोई निशान नहीं पाए गए।’’

बता दें कि कंझावला में 20 वर्षीय अंजलि की स्कूटी को एक कार ने टक्कर मार दी। फिर युवती को सुल्तानपुरी से कंझावाला तक करीब 12 किलोमीटर घसीटते हुई ले गई। रविवार एक जनवरी की तड़के हुई इस घटना में युवती की मौत हो गई थी। पुलिस ने कार में कथित तौर पर सवार पांच लोगों को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया था। घटना 31 दिसंबर की रात करीब दो बजे की है।

शराब के नशे में थे पांचों आरोपी

पांचों आरोपियों ने चलती कार में कम से कम ढाई बोतल शराब पी थी। घटना के वक्त पांचों हरियाणा के मुरथल (Murthal in Haryana) से लौटे थे। पांचों आरोपियों ने पुलिस की पूछताछ के दौरान उस रात नशे में होने की बात कबूल कर ली है। लड़की को घसीट कर ले जाने वाली कार में सवार पांचों ने रास्ते में कम से कम ढाई बोतल शराब पी ली थी।

मामले में दर्ज FIR के अनुसार, गिरफ्तार किए गए पांच आरोपी दीपक खन्ना (26), अमित खन्ना (25), कृष्ण (27), मिथुन (26) और मनोज मित्तल ने घटना के कुछ घंटों पहले कार उधार ली थी। पुलिस सूत्रों ने बताया कि आरोपियों ने कंझावला और अमन विहार के बीच बनी पुलिस चौकियों से बचने का प्रयास किया और इलाके में घूमते रहे, उन्होंने तीन बार यू-टर्न लिया।

रिपोर्टों के अनुसार, आरोपी पहले मुरथल गए थे, जो दिल्ली से 45 किमी दूर स्थित है। NDTV को सूत्रों ने बताया कि हालांकि, पांचों आरोपियों को मुरथल के ढाबे में बैठने की जगह नहीं मिली। इसके बाद वे उत्तर पश्चिम और बाहरी दिल्ली में रहने वाले इलाकों की ओर चले गए। उन्होंने सड़क किनारे फूड आउटले पर खाना खाया। उसके बाद चलती कार में फिर से शराब पी। इसी दौरान उन्होंने अंजलि सिंह की स्कूटी को टक्कर मार दी।

Leave a Comment