Google ने Doodle के ज़रिए महान कवियित्री Subhadra Kumari Chauhan को किया याद

नई दिल्ली, 16 अगस्त (The News Air)

Google अक्सर महान शख्सियतों के जन्मदिन, जयंती, पुण्यतिथियां व प्रमुख दिवसों पर अपना ख़ास गूगल डूडल पेश करता है। आज सोमवार 16 अगस्त 2021 के मौक़े पर गूगल ने महान कवियित्री और भारतीय स्वतंत्रता सेनानी सुभद्रा कुमारी चौहान को अपना ख़ास डूडल समर्पित किया है। दरअसल, आज सुभद्रा कुमारी चौहान की 117वीं जयंती है। गूगल डूडल में क्रांतिकारी मुहिमों के बीच सुभद्रा कुमारी चौहान को दिखाया गया है, जो उन वीरगाथाओं को कविता के रूप में पन्नों पर उकेरती नज़र आ रही है।

आज जैसे ही सुबह आप कुछ भी सर्च करने के लिए Google खोलेंगे, तो आपको लेटेस्ट Doodle नज़र आएगा। गूगल का आज का डूडल महान कावियित्री सुभद्रा कुमारी चौहान (Subhadra Kumari Chauhan) को समर्पित है। गूगल के डूडल में आप सुभद्रा कुमारी चौहान के पीछे रानी लक्ष्मी बाई और भारतीय राष्ट्रीय वादी आंदोलन में भाग लेते लोगों को दिखाया गया है। वहीं, सुभद्रा कुमारी चौहान को साड़ी पहने और हाथों में क़लम लिए दर्शाया गया है।

सुभद्रा कुमारी चौहान (Subhadra Kumari Chauhan) का जन्म 16 अगस्त 1904 इलाहाबाद में हुआ था। यह पहली हिंदी भाषिय कवियित्री थी, जिन्होंने अपने क़लम के माध्यम से स्वतंत्रता संग्राम में हिस्सा लिया था और अपनी कविताओं के ज़रिए दूसरे लोगों को देश के लिए लड़ने के लिए प्रेरित किया। साथ ही उन्होंने कई क्रांतिकारियों की वीरगाथाओं को भी काग़ज़ पर उतारा, जिसमें से “ख़ूब लड़ी मर्दानी वह तो झांसी वाली रानी थी” सबसे प्रमुख कविताओं में से एक है।

सुभद्रा जी का विवाह नाटककार से हुआ था, जिन्होंने सुभद्रा की प्रतिभा को पहचाना और उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहन दिया। कविता-कहानी रचनाओं के अलावा, दोनों ने मिलकर कांग्रेस के साथ मिलकर काम भी किया था। सुभद्रा कुमारी चौहान का निधन एक कार दुर्घटना में 15 फरवरी 1948 को महज़ 44 साल की आयु में ही हो गया था। 

Leave a Comment