पश्चिम बंगाल में 15 दिनों का संपूर्ण लॉकडाउन, क्या खुला रहेगा और क्या बंद जानें

कोलकाता, 15 मईः

कोरोना संक्रमण के कहर के बीच पश्चिम बंगाल में 15 दिनों का संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। राज्य में शुक्रवार को एक दिन में सर्वाधिक 20,846 मामले सामने आए। वहीं 136 लोगों की मौत हो गई। राज्य में ऑक्सिजन और अस्पताल बेड की बढ़ती मांग के बीच राज्य ने कड़ी पाबंदियां लगाने का फैसला लिया। 

जानिए लॉकडाउन के दौरान क्या खुला रहेगा और क्या बंद-
-सभी स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी, पॉलिटेक्निक, आईटीआई, आंगनबाड़ी केंद्र और दूसरे शिक्षण संस्थान 30 मई तक बंद।
-सभी सरकारी ऑफिस और प्राइवेट संस्थान बंद रहेंगे। सिर्फ जरूरी सेवाओं जैसे हेल्थ केयर, पशुचिकित्सक सेवा, कानून-व्यवस्था, न्यायालय, सामाजिक कल्याण गृह, करेक्शनल सर्विस, पावर, पेयजल सप्लाइ, टेलिकॉम, इंटरनेट, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, अग्निशमन, आपदा प्रबंधन और सिविल डिफेंस, सैनिटाइजेशन, सीवरेज और अंतिम संस्कार सेवा।
-शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, मॉल, मार्केट कॉम्प्लेक्स, स्पा, ब्यूटी पार्लर, सिनेमा हॉल, रेस्तरां, बार स्पोर्ट कॉम्प्लेक्स, जिम, स्विमिंग पूल बंद रहेंगे।
-रिटेल शॉप और सप्लाइ, बाजार और सब्जी, फल, ग्रॉसरी मिल्क, ब्रेड, मीट और अंडे की दुकानें सुबह 7 बज से 10 बजे तक दुकानें खुलेंगी।

-स्वीटमीट दुकानें सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक खुलेंगी।
-जूलरी और साड़ी की दुकानें दोपहर 12 बजे से 3 बजे खोली जा सकती हैं।
-मेडिसिन दुकानें और ऑप्टिकल शॉप सामान्य कामकाजी घंटे के दौरान खुली रहेंगी।
-पार्क, चिड़ियाघर, सेंचुरी आम लोगों के लिए बंद रहेंगे। सिर्फ रखरखाव के लिए खोले जाएंगे।
-सभी अंतर्राज्यीय लोकल ट्रेन, मेट्रो रेलवे और अंतर्राज्यीय बस सेवा और अंतर्देशीय जल परिवहन सेवाएं बंद रहेंगी। सिर्फ इमर्जेंसी और जरूरी सेवाओं की अनुमति रहेगी।
-प्राइवेट वाहनों, टैक्सी, ऑटो रिक्शा का उपयोग निषेध रहेगा। सिर्फ अस्पताल, नर्सिंग होम, डायग्नोस्टिक केंद्र, क्लीनिक, वैक्सिनेशन सेंटर, एयरपोर्ट, टर्मिनल पॉइंट, मीडिया हाउस वगैरह जाने के लिए वाहन ले जाने की अनुमति रहेगी।
-सभी प्रशासनिक, अकैडमिक, एंटरटेनमेंट, पॉलिटिकल, कल्चरल और धार्मिक गतिविधियों पर रोक रहेगी।
-सभी इंडस्ट्री और मैन्युफैक्चरिंग यूनिट बंद रहेंगी। सिर्फ मेडिकल सप्लाइ, कोविड प्रोटेक्टिव सप्लाइ, हेल्थ और हाइजीन केयर प्रोडक्ट, ऑक्सिजन और ऑक्सिजन सिलिंडर की इंडस्ट्री खुली रहेंगी।

-टी गार्डन का संचालन प्रत्येक शिफ्ट में 50 फीसदी क्षमता के साथ होगा।

-जूट मिलों का संचालन प्रत्येक शिफ्ट 30 फीसदी क्षमता के साथ होगा।

-ई-कॉमर्स और सभी सामानों की होम डिलिवरी की अनुमति रहेगी।

Leave a Comment