Yogi Adityanath: आज ‘मोदी है तो मुमकिन है’ केवल भारत का नारा नहीं, बल्कि..

लखनऊ (The News Air): उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कार्यकर्ताओं को विजेता के भाव रूपी विरासत को संभालने का मंत्र देते हुए कहा कि ‘आज मोदी है तो मुमकिन है’ केवल भारत का नारा नहीं, बल्कि वैश्विक मंत्र बन गया है। लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी की एक दिवसीय बैठक के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए योगी ने भारत की जी-20 अध्यक्षता और उत्तर प्रदेश के चार शहरों में होने वाली समूह की बैठकों का जिक्र करते हुए कहा, ‘हम सब विजेता के भाव से आगे बढ़ें, हमारे पास अनेक संभावनाएं आएंगी।’

उन्होंने 10 से 12 फरवरी के बीच आयोजित होने वाले ग्‍लोबल इन्‍वेस्‍टर्स समिट की चर्चा करते हुए कहा, “प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी अपने कर कमलों से इसे आगे बढ़ाएंगे। उत्तर प्रदेश नए निवेश के गंतव्य के रूप में उभरकर सामने आ रहा है। भाजपा के एक-एक कार्यकर्ता को अपनी टीम के साथ आगे आने की आवश्यकता है।” योगी ने मोदी की तारीफ करते हुए कहा, “दुनिया में जहां भी संकट खड़ा हो रहा है, वहां का हर व्यक्ति उम्‍मीद से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर देख रहा है। जो नारा 2019 में लगा था कि ‘मोदी है तो मुमकिन है’, वह आज केवल भारत का नारा नहीं, बल्कि वैश्विक मंत्र बन गया है। जी-20 की अध्यक्षता इसका उदाहरण है।”

उन्होंने कहा, “मोदी जी ने जी-20 के साथ प्रत्येक भारतवासी को जोड़ने का कार्य किया है। आगरा, लखनऊ, वाराणसी और गौतमबुद्धनगर में जी-20 से संबंधित 11 सम्मेलन होने हैं।” भारत और विशेष रूप से उत्तर प्रदेश की विरासत का उल्लेख करते हुए योगी ने कहा, “कल आपने प्रयागराज में मौनी अमावस्या के स्नान को देखा होगा। दो करोड़ से अधिक श्रद्धालु वहां पहुंचे थे। अगर इस सामर्थ्‍य को पिछली सरकारों ने समझने का प्रयास किया होता और इसे सम्‍मान देने का कार्य किया होता तो उन्हें दर-दर की ठोकरें नहीं खानी पड़तीं।”

उन्होंने कहा कि विरासत को जो भी सम्मान देगा, समृद्धि उसके लिए द्वार खोलेगी और जो भी उसे अपमानित करेगा, उसे दर-दर की ठोकरें खानी पड़ेंगी। प्रदेश में सात माह बाद हुई प्रदेश कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुए योगी ने कहा, “यह हम सबके उत्साह और उमंग का क्षण है। आज से सात माह पूर्व जब हम मई 2022 में भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के अवसर पर मिले थे, तो उस समय हम लोग प्रदेश में नयी सरकार के गठन के एक नए उत्साह के साथ एकत्र हुए थे और नए संकल्प के साथ आगे बढ़े थे।”

उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व और मार्गदर्शन में पहली बार कोई सरकार पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा करने के बाद फिर से दो-तिहाई बहुमत के साथ सत्ता में आई है। यह भाजपा जैसे दुनिया के सबसे बड़े राजनीतिक दल के कार्यकर्ताओं के उत्साह और उमंग का परिणाम था।” योगी ने कहा कि विजेता के रूप में कार्य कैसे होना चाहिए, यह भाजपा बहुत अच्‍छी तरीके से जानती है और करती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में दो उपचुनाव आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा क्षेत्र में संपन्न हुए और विधानसभा चुनाव की तर्ज पर तमाम विश्लेषकों के पूर्वानुमानों को ध्वस्त करते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं के परिश्रम और मोदी जी के मार्गदर्शन व नेतृत्व में पार्टी ने दोनों उपचुनावों में जीत हासिल कर विजेता की अपनी भूमिका को बरकरार रखा।

मुख्यमंत्री ने कहा, “आज जब हम सात माह बाद फिर से एकत्र हुए हैं, तो देश के प्रमुख राज्य गुजरात में भाजपा की ऐतिहासिक जीत और वहां सातवीं बार पार्टी की सरकार बनना, हमें एक नए उत्साह, एक नए उमंग के साथ प्रेरित करता है। विजेता के रूप में कैसे कार्य करना चाहिए, यह उत्साह व उमंग हम सबके सामने है।” नगरीय निकाय चुनावों के लिए कार्यकर्ताओं को सजग करते हुए योगी ने कहा, “762 नगर निकायों में चुनाव होने हैं।

ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) आयोग की रिपोर्ट आते ही चुनाव की घोषणा हो जाएगी। 2014, 2017, 2019, 2022 की तरह ही नगर निकाय चुनावों में भी भाजपा का परचम लहराता हुआ नजर आना चाहिए।” इससे पहले, अपने अध्‍यक्षीय उद्बोधन में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी ने 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए प्रदेश की सभी 80 सीटों को जीतने का लक्ष्य निर्धारित किया।

प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व ब्रजेश पाठक, केंद्रीय मंत्री जनरल वी के सिंह, पंकज चौधरी, संजीव बालियान, कौशल किशोर, साध्‍वी निरंजन ज्‍योति, भानु प्रताप वर्मा और प्रदेश के प्रमुख पदाधिकारी समेत 700 प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं। (एजेंसी)

Leave a Comment