नया साल मनाने के लिए गोवा नहीं, वाराणसी रही लोगों की पहली पसंद

2022 के अंत के साथ हम 2023 में प्रवेश कर चुके हैं, जिसके साथ ही कई कंपनियों ने बीते वर्ष में उनके डेटा को शेयर करना शुरू कर दिया है। होटल चेन OYO ने भी अपना एक दिलचस्प डेटा शेयर किया है, जिससे पता चला है कि भारत में नया साल मनाने के लिए गोवा सबसे पॉपुलर जगह नहीं थी, बल्कि लोगों ने एक ऐसे शहर का रुख किया है, जो आध्यात्म के लिए जानी जाती है।OYO के CEO रितेश अग्रवाल (Ritesh Agarwal) ने सोशल मीडिया पर बताया कि 2022 के आखिरी दिन नया साल मनाने के लिए बड़े पैमाने पर लोगों ने वाराणसी का रुख किया। उन्होंने बताया कि नए साल के लिए लोगों ने गोवा से ज्यादा वाराणसी के लिए होटल बुकिंग की। एक ओर गोवा बीच और नाइटलाइफ के लिए पॉपुलर है, वहीं इसके बिल्कुल विपरीत उत्तर प्रदेश में स्थित वाराणसी को भारत की आध्यात्मिक राजधानी के रूप में माना जाता है।

अग्रवाल ने ट्विटर पर अपने पोस्ट में लिखा, (अनुवादित) “गोवा से बुकिंग घंटे के हिसाब से बढ़ रही है। लेकिन अंदाजा लगाइए कि कौन सा शहर गोवा को पछाड़ रहा है? वाराणसी। पुनश्च: हम वैश्विक स्तर पर लगभग 700+ शहरों में सोल्ड आउट हो चुके हैं।”

कोविड महामारी की शुरुआत के बाद से इस बार नए साल में कोविड के डर को नकारते हुए बड़े पैमाने पर शिमला, गोवा, आगरा और वाराणसी जैसे पॉपुलर लोकेशन का रुख किया।

अग्रवाल के अनुसार, ग्लोबल स्तर पर 4.50 लाख से ज्यादा बुकिंग नए साल की शाम के लिए थी, जो 2021 की तुलना में 35 प्रतिशत ज्यादा थी।

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने बताया कि बीते पांच वर्षों में इस बार OYO ने सबसे ज्यादा बुकिंग ली। उन्होंने लिखा, (अनुवादित) “हम आज पिछले 5 वर्षों में भारत के लिए प्रति होटल प्रति दिन उच्चतम बुकिंग भी देख रहे हैं।”

31 दिसंबर को रात 9 बजे किए गए उनके ट्वीट में एक ग्राफ शेयर किया गया था, जिसमें अग्रवाल ने बताया कि ट्वीट करने तक, OYO ऐप पर प्राइस चेंज 1.27 करोड़ गुना तक बढ़ गया था।

Leave a Comment