नवरात्र में मीट बैन पर TMC सांसद की दलील, संविधान मुझे..

The News Air- तृणमूल कांग्रेस (TMC) सांसद महुआ मोइत्रा ने बुधवार को नवरात्री में मीट बैन को लेकर अपनी दलील पेश की। उन्होंने कहा कि भारत का संविधान उन्हें ये अधिकार देता है कि वे जब चाहे मीट खा सकती हैं। इस मसले पर उन्होंने ट्वीट किया- ‘मैं दक्षिण दिल्ली में रहती हूं। संविधान मुझे मीट खाने की इजाज़त देता है। साथ ही मीट शॉप को खोलने की आज़ादी भी देता है। पूर्ण विराम।’

107 1649232868

उनका यह बयान दक्षिण दिल्ली नगर निगम के मेयर मुकेश सूर्यन के उस पत्र के बाद आया है, जिसमें उन्होंने नवरात्रि के दौरान नगर निगम क्षेत्र में मीट की दुकानों को बंद करने की मांग की थी।

दक्षिण दिल्ली के मेयर ने नवरात्री में मीट बैन की मांग की

दक्षिण दिल्ली के मेयर मुकेश सूर्यन ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को एक पत्र लिखा है कि वे नवरात्रि के दौरान शराब पर छूट को वापस लें और हो सके तो नौ दिनों के लिए शराब की बिक्री भी बंद कर दें। इस बीच, दक्षिण दिल्ली नगर निगम ने भी संबंधित अधिकारियों को 2 अप्रैल से 11 अप्रैल तक मनाए जा रहे नवरात्र त्योहार के दौरान मीट की दुकानों को बंद करने का आदेश दिया।

मुकेश ने कहा, ‘हम सभी मीट की दुकानों को सख़्ती से बंद कर देंगे। न मीट बेचा जाएगा, न लोग इसे खा पाएंगे।’

113 1649237372

EDMC ने भी मीट की दुकानों को बंद करने की घोषणा की

पूर्वी दिल्ली नगर निगम (EDMC) ने भी नवरात्रि के आखिरी तीन दिनों यानी सप्तमी (सातवें दिन), अष्टमी (आठवें दिन) और नवमी (नौवें दिन) को मीट की दुकानें बंद रखने की घोषणा की। विशेष रूप से, नौ दिवसीय नवरात्र 2 अप्रैल से 11 अप्रैल तक मनाया जा रहा है, जिसमें सप्तमी, अष्टमी और नवमी क्रमशः 9, 10 और 11 अप्रैल को पड़ रही है।

Leave a Comment