केंद्र के सामने SGPC ने रखी मांग:धामी बोले- इंडिया-पाकिस्तान बस और ट्रेन..

The News Air- शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) ने प्रस्ताव पास करके केंद्र से बंद की जा चुकी इंडिया-पाकिस्तान ट्रेन व बस सर्विस को दोबारा से शुरू करने की मांग रखी है। यह मता जनरल हाउस में रखा गया। यहां इसे मानने के बाद सरकार को भेजा है। गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर में धारा 370 के हटाए जाने के बाद से ही दोनों देशों के बीच ट्रांसपोर्ट माध्यमों को बंद कर दिया गया था।
SGPC के प्रधान हरजिंदर सिंह धामी ने कहा कि अब जब सब सामान्य हो रहा है तो दोनों देशों के बीच चलने वाली ट्रेन व बसों को दोबारा से शुरू कर देना चाहिए। इसके अलावा उन्होंने अमृतसर में भी एक वीजा सेंटर शुरू करने की मांग रखी है। अभी भी श्रद्धालुओं व लोगों को वीजा के लिए दिल्ली का रुख करना पड़ता है। इतना ही नहीं, बीते दिनों श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने भी पाकिस्तान स्थित ननकाना साहिब में दोनों देशों के बीच बस-ट्रेन चलाने की मांग पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सामने रखी थी। इसके साथ ही उन्होंने पाकिस्तान कमेटी को वहां की सरकार से बात करने के लिए भी कहा था।

10 अगस्त 2019 को बंद हुई थी सुविधाएं

दोनों देशों के बीच 10 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने के बाद सड़क व ट्रेन यातायात को पाकिस्तान के साथ बंद कर दिया गया था। इससे पहले दोनों देशों के बीच पंज-आब और दोस्ती के नाम से दो बसों को चलाया जाता था। यह बसें अमृतसर लाहौर व ननकाना साहिब के बीच चलती थी। इसके अलाव समझौता एक्सप्रेस ट्रेन दोनों देशों के बीच चलाई जाती थी।

पाक सरकार ने रोकी थी बस

पंज-आब बस सर्विस को 2006 में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने शुरू किया था, लेकिन 10 अगस्त 2019 को जब जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटाई गई तो इस बस को पाकिस्तान सरकार ने रोक दिया था। इतना ही नहीं, पाकिस्तान गए बस ड्राइवर व कंडक्टर को दोबारा पाकिस्तान आने से मना किया था। इसके बाद से फिर कभी पाकिस्तान को बस नहीं भेजी गई।

Leave a Comment