ओवैसी को भी मिल गई Z कैटेगरी सिक्योरिटी, हमलावरों की हुई पहचान

The News Air- (नई दिल्ली) UP के हापुड़ में हमले के बाद गृह मंत्रालय ने असदुद्दीन ओवैसी को Z कैटेगरी की सुरक्षा दे दी है। अब ओवैसी के सुरक्षा घेरे में CRPF के जवान रहेंगे। यानी, ओवैसी की Z कैटेगरी सिक्योरिटी में अब 4 से 6 NSG कमांडो और पुलिस कर्मियों समेत 22 जवान तैनात रहेंगे। उधर, पुलिस दो हमलावरों शुभम और सचिन को शुक्रवार को कोर्ट में पेश कर सकती है।
सूबे के ADG क़ानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि सांसद के धर्म विरोधी भड़काऊ भाषणों और 2013-14 के दौरान अयोध्या के राम मंदिर को लेकर ओवैसी की टिप्पणी से आहत होकर आरोपियों ने इस वारदात को अंजाम दिया। फ़िलहाल मेरठ रेंज के IG प्रवीण कुमार हापुड़ ज़िले में डेरा डाले हुए हैं।

1

कार में लगी थीं तीन गोलियां

ओवैसी मेरठ और किठौर में पदयात्रा करने के बाद 3 फरवरी की शाम साढ़े पांच बजे NH-24 से दिल्ली लौट रहे थे। हापुड़ ज़िले में पिलखुवा थाना क्षेत्र के छिजारसी टोल प्लाज़ा पर पहले से खड़े दो युवकों ने ओवैसी की कार पर फायरिंग कर दी। उनकी कार में तीन गोलियां लगीं। ओवैसी बाल-बाल बच गए।

दो पिस्टल, अल्टो कार बरामद

ADG क़ानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि इस मामले में थाना बादलपुर (ग्रेटर नोएडा) दुरियाई के रहने वाले सचिन और थाना नकुड़ (सहारनपुर) गांव सापला बेगमपुर के रहने वाले को शुभम गिरफ़्तार किया है। दोनों के पास से एक-एक अवैध पिस्टल व ऑल्टो कार बरामद की गई है। इस मामले में ओवैसी के प्रतिनिधि यामीन ने थाना पिलखुवा में जानलेवा हमला और 7 क्रिमिनल एक्ट के तहत मुक़दमा दर्ज़ कराया है।

जेल से छूटने पर शाहीन बाग़ वाले गोपाल का किया था स्वागत

जांच में पता चला कि सचिन पहले ABVP में रहा। वह लंबे समय से BJP से जुड़ा है। 7 जुलाई 2019 को उसने अपनी फेसबुक ID पर भाजपा की ऑनलाइन सदस्यता की रसीद भी डाली हुई है। इसके अलावा भाजपा नेता अरुण सिंह, सुनील बंसल, सांसद महेश शर्मा, MLC श्रीचंद शर्मा, लक्ष्मीकांत वाजपेयी, नोएडा विधायक पंकज सिंह समेत तमाम नेताओं के फ़ोटो फेसबुक ID पर मौजूद हैं।

पिछले दिनों जब गृहमंत्री अमित शाह जब नोएडा आए, तब भी सचिन वहाँ मौजूद था। एमएमएच कॉलेज कॉलेज गाज़ियाबाद से ग्रेजुएट सचिन शाहीन बाग़ में गोली चलाने वाले गोपाल दत्त शर्मा का समर्थक रहा है। गोपाल जब जेल से छूटकर आया तो सचिन ने उसका नोएडा में स्वागत किया था। गोपाल भी ग्रेटर नोएडा में ज़ेवर का रहने वाला है और सोशल मीडिया पर ख़ुद को कट्टर हिंदू बताता था।

‘हिंदू पुत्र आएगा बचाने’ पोस्ट डालकर कर दिया हमला

सचिन ने 3 फरवरी 2022 को दिन में महाराणा प्रताप, भगत सिंह, ओवैसी से जुड़ी चार पोस्ट डाली थीं। एक पोस्ट में उसने ओवैसी के उस भाषण का वीडियो डाला, जिसमें वह यह कहते हुए दिख रहे हैं, ‘हमेशा योगी मुख्यमंत्री नहीं रहेगा, हमेशा मोदी प्रधानमंत्री नहीं रहेगा। याद रखो हम तुम्हारे ज़ुल्म को भूलने वाले नहीं हैं।’ इस वीडियो को कोट करते हुए सचिन ने लिखा था कि हिंदू पुत्र आएगा बचाने। इस पोस्ट के कुछ घंटे बाद ही उसने ओवैसी के क़ाफिले पर हमला बोल दिया।

Leave a Comment