NITI Aayog के वाइस चेयरमैन राजीव कुमार ने दिया इस्तीफा, इकोनॉमिस्ट सुमन बेरी ले सकते हैं उनकी जगह

नीति आयोग (NITI Aayog) के वाइस चेयरमैन राजीव कुमार (Rajiv Kumar) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफे की वजह अभी तक सामने नहीं आई है। सूत्रों के मुताबिक राजीव कुमार की जगह अर्थशास्त्री सुमन बेरी (Suman Bery) नीति आयोग के अगले वाइस चेयरमैन बनाए जा सकते हैं।

नीति आयोग के दूसरे वाइस चेयरमैन हैं राजीव कुमार

बता दें कि राजीव कुमार नीति आयोग के दूसरे वाइस चेयरमैन थे। 2014 में पहली बार सत्ता में आने के बाद मोदी सरकार ने तत्कालीन योजना आयोग का नाम बदलकर नीति आयोग कर दिया था। इसके बाद अरविंद पनगढिया नीति आयोग के पहले वाइस चेयरमैन बने थे। अरविंद पनगढ़िया के इस्तीफा देने के बाद 1 सितंबर 2022 को राजीव कुमार आयोग के नए वाइस चेयरमैन बने थे। बता दें कि नीति आयोग के चेयरमैन प्रधानमंत्री होते हैं।

राजीव कुमार इससे पहले फिक्की के सेक्रेटरी जनरल थे। वहीं साल 1995 से 2005 के दौरान उन्होंने एशियन डिवेलपमेंट बैंक के मुख्य अर्थशास्त्री के रूप में सेवाएं दी है। 1992 से 1995 के दौरान वह वित्त मंत्रालय के आर्थिक सलाहकार भी रह चुके हैं। 70 वर्षीय राजीव कुमार ने अर्थशास्त्र में लखनऊ यूनिवर्सिटी से पीचएडी और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से डीफिल किया है।

कौन हैं सुमन बेरी, जो बन सकते हैं नीति आयोग के अगले वाइस चेयरमैन

सुमन बेरी एक भारतीय अर्थशास्त्री और वर्ल्ड बैंक के चीफ इकोनॉमिस्ट रह चुके हैं। वह नई दिल्ली स्थित नेशनल काउंसिल ऑफ अप्लायड इकोनॉमिक रिसर्च के 2001 से 2011 तक पूर्व डायरेक्टर जनरल भी रहे हैं। फिलहाल वह बेल्जियम की राजधानी ब्रूसेल्स में स्थित एक इकोनॉमिक थिंक टैंक के नॉन-रेजिडेंट फेलो हैं। उन्होंने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से ग्रैजुएशन और प्रिसंटन यूनिवर्सिटी से मास्टर डिग्री किया हुआ है।

सुमन बेरी ने अपने करियर की शुरुआत वर्ल्ड बैंक के साथ की थी, जहां उन्होंने करीब 28 साल तक सेवाएं दी और उसके चीफ इकोनॉमिस्ट बने। वह प्रधान मंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद, भारत के सांख्यिकीय आयोग भारत के सांख्यिकीय आयोग और मॉनिटरी पॉलिसी को लेकर RBI की बनी तकनीकी सलाहकार समिति के सदस्य के रूप में भी काम कर चुके हैं।

Leave a Comment