राम रहीम की पैरोल से पहले नया विवाद: शाह सतनामपुरा में 5 गांवों के लोगों..

हिसार (The News Air) हरियाणा के रोहतक की सुनारिया जेल में बंद राम रहीम की पैरोल से पहले डेरा सच्चा सौदा के सामने नई मुश्किलें आ गई हैं। सिरसा के 5 गांवों के ग्रामीणों ने जमीन को लेकर डेरे के खिलाफ धरना शुरू कर दिया। नेजिया, शाहपुर बेगू, अरनियांवाली, बाजेकां, अलीमोहम्मद के ग्रामीणों का कहना है कि डेरे ने अपना अलग गांव शाह सतनामपुरा बसाया है। पहले इसके अंदर 1500 एकड़ जमीन का रकबा शामिल किया गया था। कुछ समय पहले 200 एकड़ और करवा लिया।

शाह सतनामपुरा डेरे का ही गांव है। इसलिए डेरा अपने गांव में केवल डेरे की भूमि को रकबे में शामिल करें। डेरे की 700 एकड़ जमीन ही शामिल की जाए। जिस कारण हर एकड़ के पीछे एक कनाल जमीन शाह सतनामपुरा गांव के रकबे में आ गई है। ग्रामीणों की मांग है कि शाह सतनामपुरा में केवल डेरे की जमीन ही जोड़ी जाए। ग्रामीणों के धरने के बाद पुलिस एक्टिव हुई और धरना स्थल पर पहुंची। वहीं मैनेजमेंट ने भी ग्रामीणों को बातचीत के लिए बुलाया है।

धरने पर बैठे ग्रामीण

धरने पर बैठे ग्रामीण

कमेटी सदस्य दलीप साईं ने बताया कि हमारी डेरा मैनेजमेंट के साथ मीटिंग हुई। उन्होंने कल तक का समय मांगा है और आश्वासन दिया है कि शाह सतनामपुरा में हम केवल डेरे की जमीन शामिल करेंगे। दलीप साईं ने बताया कि डेरा मैनेजमेंट काे हमने कल तक का समय दिया है, उसके बाद हम अपना धरना मंदिर के बाहर सड़क पर रखेंगे।

राम रहीम ने किया पैरोल पर आवेदन

राम रहीम ने पैरोल के लिए आवेदन किया है। रोहतक कमिश्नर ने बरनावा प्रशासन से रिपोर्ट मांगी थी। बरनावा आश्रम में राम रहीम के प्रेमियों ने उनके आने की तैयारियां शुरू कर दी है। राम रहीम की पैरोल को लेकर गुरुग्राम से हनीप्रीत भी रवाना हो चुकी है। हनीप्रीत ने कल शाम अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपने काफिले के साथ ट्रैवलिंग करते हुए आई प्राउड माई डैड का लोगो दिखाया था।

राम रहीम पिछली बार 15 अक्टूबर को 40 दिन की पैरोल पर आया था और करीब 25 नवंबर को वापस सुनारिया जेल गया था।

रणजीत सिंह ने भी भरी थी हामी

राम रहीम की पैरोल को लेकर हरियाणा के जेल मंत्री रणजीत सिंह ने खुलासा किया था कि डेरा प्रमुख ने 2 दिन पहले अर्जी लगाई है। इसकी पैरोल पर फैसला रोहतक डिवीजन कमिश्नर लेंगे। हरियाणा के जेल मंत्री रणजीत चौटाला ने बताया कि राम रहीम ने 40 दिन की पैरोल लगाई है। बता दें कि सिरसा डेरे में 25 जनवरी को दूसरे गद्दीनशीन संत सतनाम सिंह का जन्म दिवस है। राम रहीम ने सिरसा में इस समारोह में शामिल होने के लिए पैरोल मांगी है।

साल 2022 में 91 दिन की पैरोल, 3 गाने लॉन्च किए

साध्वी यौन शोषण, छत्रपति रामचंद्र और रणजीत हत्याकांड में उम्रकैद की सजा काट रहे सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को साल 2022 में पहली बार 21 दिन की फरलो और 70 दिन की पैरोल मिली। राम रहीम की फरलो और पैरोल को लेकर सरकार विरोधियों के निशाने पर भी रही। इस दौरान 40 दिन की पैरोल में उसने नशे पर तीन गाने भी लॉन्च किए। वह बरनावा आश्रम में पहले भी 2 बार पैरोल काट चुका है।

Leave a Comment