कपूरथला का ‘कुंडी कनेक्शन’ मामला पहुंचा मंत्री के पास: बिजली चोरी को लेकर..

कपूरथला (The News Air) पंजाब के कपूरथला में बिजली चोरी के मामलों पर विभागीय अधिकारियों के उदासीन रवैये को देख एक जागरूक नागरिक द्वारा बिजली चोरी के मामलो की शिकायत सबूतों के साथ बिजली मंत्री हरभजन सिंह ETO तक पहुंचाने के बाद पावरकॉम के उच्च अधिकारी हरकत में आ गए हैं।

मंत्री के आदेश के बाद हालांकि 2 बिजली चोरी के कुंडी कनेक्शन पकड़ मामूली जुर्माना वसूला है। लेकिन इस गोरख धंधे में शहर के एक पार्षद पति और उसका बेटा जो कि विभाग में कॉन्ट्रैक्ट कर्मी है, पर कथित वसूली के आरोप लग रहे है। जिसकी जांच शुरू कर दी है। गांव शेखूपुर के नजदीक मच्छर कालोनी की झुग्गियों में ‘कुंडी कनेक्शन’ लगाकर बिजली चोरी करते काबू किये 2 लोगों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई के लिए भी विभाग ने लिख दिया है।

पिता पूत्र पर लगे अवैध वसूली के आरोप

सूत्रों की माने तो पिछले लगभग 4-5 वर्षो से इन झुग्गीवालों से कथित कुंडी लगवाकर अवैध वसूली के खेल में पार्षद पति व उसके बेटा संदेह के घेरे में हैं। क्योंकि महिला पार्षद का बेटा पावरकॉम में कांट्रैक्ट कर्मी के तौर पर तैनात है। और पिता-पुत्र पर मिलकर अवैध वसूली के आरोप लग रहे है।

जानकारी अनुसार गांव शेखूपुर वासी एक जागरूक नागरिक ने नजदीक की मच्छर कालोनी में ‘कुंडी कनेक्शन’ के जरिये बिजली चोरी करवा अवैध वसूली के खेल की शिकायत पंजाब के बिजली मंत्री हरभजन सिंह ईटीओ, इंफ्रोर्समेंट डायरेक्टोरेट, पावरकॉम CMD तथा विशेष सचिव को वॉट्सऐप पर भेजी गई थी। जिसमें उसने पार्षद पति दौरा सरेआम कुंडी लगवाकर झुग्गी वालों से मासिक तौर पर मोटी रकम वसूलने के आरोप लगाए है।

4-5 साल से चल रहा था अवैध वसूली का धंधा

शिकायत में उसने यह भी बताया कि इस खेल में पार्षद का बेटा भी शामिल है, जोपावर कॉम में कांट्रेक्ट कर्मी है और पिछले 4-5 साल से अवैध वसूली का धंधा चला रहे है। जब भी विभागीय टीम छापेमारी करती है, तो उक्त कर्मी पहले ही सूचना पहुंचा देता है। जिससे टीम को बैरंग लौटना पड़ता है।

बिजली मंत्री को वॉट्सऐप पर भेजी गई शिकायत।

बिजली मंत्री को वॉट्सऐप पर भेजी गई शिकायत।

बिजली मंत्री को वॉट्सऐप भेजकर दी गई शिकायत

जानकारी अनुसार गांव शेखूपुर वासी एक जागरूक नागरिक ने नजदीक की मच्छर कालोनी में “कुंडी कनेक्शन” के जरिये बिजली चोरी करवा अवैध वसूली के खेल की शिकायत पंजाब के बिजली मंत्री हरभजन सिंह ईटीओ, इंफ्रोर्समेंट डायरेक्टोरेट, पावरकॉम CMD तथा विशेष सचिव को वॉट्सऐप पर भेजी गई थी। जिसमें उसने पार्षद पति दौरा सरेआम कुंडी लगवाकर झुग्गी वालों से मासिक तौर पर मोटी रकम वसूलने के आरोप लगाए है।

शिकायत में उसने यह भी बताया कि इस खेल में पार्षद का बेटा भी शामिल है, जोपावर कॉम में कांट्रेक्ट कर्मी है और पिछले 4-5 साल से अवैध वसूली का धंधा चला रहे है। जब भी विभागीय टीम छापामारी करती है, तो उक्त कर्मी पहले ही सूचना पहुंचा देता है। जिससे टीम को बैरंग लौटना पड़ता है।

बिजली मंत्री हरभजन सिंह ईटीओ, इंफ्रोर्समेंट डायरेक्टोरेट, पावरकॉम CMD तथा विशेष सचिव को वाट्सअप पर भेजी शिकायत

बिजली मंत्री हरभजन सिंह ईटीओ, इंफ्रोर्समेंट डायरेक्टोरेट, पावरकॉम CMD तथा विशेष सचिव को वाट्सअप पर भेजी शिकायत

2 झुग्गी वालों को बिजली चोरी करते रंगे हाथ काबू किया

इस शिकायत के बाद बिजली मंत्री ने तुरंत एक्शन लेने के आदेश दिए तो पावर कॉम फव्वारा चौक के SDO नानक राम, JE-वन शिव कुमार सहित 7-8 कर्मियों ने मच्छर कालोनी में रेड कर राजू व शंकर नाम के 2 झुग्गी वालों को बिजली चोरी करते रंगे हाथ काबू किया। SDO नानक राम के अनुसार दोनों से 5012 रुपए जुर्माना वसूला गया है और पुलिस कार्रवाई के लिए लिख दिया गया है। वहीं पावर कॉम में तैनात कांट्रैक्ट कर्मी की संदिग्ध भूमिका के बारे जांच के लिए विभाग से एक सप्ताह का समय मांगा गया है।

लीपा-पोती बर्दाश्त नहीं होगी, सख्त एक्शन लेना बेहद जरूरी

वहीं दूसरी तरफ SDO नानक राम ने फ़िलहाल कांट्रेक्ट कर्मी की बदली किए जाने की सिफारिश SE कपूरथला डीआर बंगड़ से कर दी है। लेकिन SI ने SDO के पत्र को रि-मार्क लगाकर बैक रेफर कर दिया और कहा कि जांच अधूरी है। इसे मुकम्मल कर तथ्यों के अनुरूप भेजेें। SE ने यह भी कहा कि मामले में लीपापोती बर्दाश्त नहीं होगी सख्त एक्शन लेना बेहद जरूरी है।

मामले की जांच में जुटे अधिकारी

SE डीआर बंगड़ ने यह भी माना कि उनके पास मच्छर कालोनी को लेकर 4-5 साल से चल रहे गोरखधंधे को लेकर शिकायतें पहुंची हैं। इसलिए इस समयावधि दौरान पावरकॉम कार्यालय फव्वारा चौक में तैनात रहे तमाम अफसरों व कर्मचारियों को भी जांच में शामिल किया जाएगा। जिससे पता चल सके कि विभाग को चूना लगाने में किन-किन अधिकारियों की शामूलियत थी।

Leave a Comment