इन चुनावों में मैंने AAP को फंड दिया..,’ सुकेश चंद्रशेखर ने लिखा एक और पत्र

Sukesh Chandrashekhar On Kejriwal: गुजरात और हिमाचल के चुनाव सिर पर हैं और आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. सुक्रेश चंद्रशेखर आए दिन नए नए खुलासे कर रहे हैं और केजरीवाल पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं. जेल में बंद सुकेश ने सोमवार को दिल्ली एल.जी वीके सक्सेना को एक नया और अपना चौथा पत्र लिखा. पत्र में सुकेश ने आम आदमी पार्टी के सवालों का जवाब दिया और मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग की.

‘मुझसे पंजाब और गोवा चुनाव के लिए फंड मांगा था’

अपने ताजा पत्र में सुकेश ने आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी (आप) ने उनसे पंजाब और गोवा चुनावों के लिए धन की मांग की थी और उसने फंड भी दिया खा. सुकेश ने कहा कि अगर वह झूठा है तो उस पर अरविंद केजरीवाल और सत्येंद्र जैन केस वापस लेने का दबाव क्यों डाल रहे हैं. सुकेश चंद्रशेखर ने अरविंद केजरीवाल और आप पार्टी पर पलटवार करते हुए कहा कि उसे मीडिया के सामने आने के लिए मजबूर किया जा रहा है, क्योंकि जवाब देने के बजाय आम आदमी पार्टी उसके खिलाफ शब्दों की जंग छेड़ रही है.

सुकेश ने अपने चौथे पत्र की शुरुआत इस तरह से की, “मैं यह प्रेस बयान इसलिए दे रहा हूं क्योंकि AAP मुझसे लड़ने की कोशिश कर रही है और मुझे अपनी पिछली प्रेस विज्ञप्ति और शिकायतों में जो कुछ भी कहा और पूछा है, उसके सच का जवाब देने के बजाय मुझे शब्दों के युद्ध से उकसा रही है.” 

‘मुझे आपकी लगातार धमकियां मिल रही हैं’

चुनाव के दौरान अब आरोप क्यों लगा रहे हैं, इस सवाल पर सुकेश चंद्रशेखर ने कहा, “जेल प्रशासन के माध्यम से आपकी लगातार धमकियां और दबाव बहुत ज्यादा हो गया और मुझे आपसे यह सब लेने की कोई जरूरत नहीं है, इसलिए मैंने कानून के मुताबिक चलने का फैसला किया है. इसलिए नहीं कि कोई मुझसे ऐसा करने के लिए कह रहा है.”

‘मुझे कोई मदद नहीं कर रहा है’

सुकेश ने सत्येंद्र जैन पर पूर्व डीजी संदीप गोयल के खिलाफ एचसी में दायर एक शिकायत को वापस लेने के लिए “धमकी” देने का भी आरोप लगाया. मनीष सिसोदिया के इस बयान पर कि सुकेश दिल्ली उपराज्यपाल को पत्र लिख रहे हैं, क्योंकि उन्हें मामले में मदद की जा रही है, ठग ने कहा, “मुझे किसी की मदद में कोई दिलचस्पी नहीं है और सौभाग्य से मैं अपने मामले को संभालने और अपनी बेगुनाही साबित करने में बहुत सक्षम हूं. इसलिए मामले को मुख्य मुद्दे से भटकाना बंद करें.”

‘मैं पीछे नहीं हटूंगा’

दिल्ली उपराज्यपाल को लिखे अपने नए पत्र में, सुकेश ने केजरीवाल से “उन्हें प्रस्ताव भेजना बंद करने” का अनुरोध किया. सुकेश ने कहा, “जेल प्रशासन के जरिए मुझे ऑफर और धमकियां देना बंद करो. मैं आपके किसी भी प्रस्ताव में दिलचस्पी नहीं रखता हूं. मैं पीछे नहीं हटूंगा. मैं यह सुनिश्चित करूंगा कि आपको दिया गया हर एक लेन-देन अदालत के सामने लाया जाए.” पत्र के अंत में जेल में बंद अपराधी ने केजरीवाल के इस्तीफे की मांग की.

Leave a Comment