लखीमपुर केस : कैसे हुई हिंसा, कैसे कुचले गए किसान? सब जानिए..आशीष मिश्रा के साथ क्राइम सीन रिक्रिएट


लखीमपुर खीरी,14 अक्टूबर (The News Air)

उत्तर-प्रदेश (uttar pradesh) के लखीमपुर खीरी कांड (lakhimpur kheri case) की जांच कर रही SIT ने गुरुवार को केंद्रीय राज्यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा और उसके दोस्त अंकित दास सहित चार आरोपियों की मौजूदगी में अपराध स्थल पर जाकर क्राइम सीन रिक्रिएट किया। क्राइम सीन रिक्रिएट की प्रक्रिया में आशीष मिश्रा और अंकित दास के अलावा गनमैन लतीफ और ड्राइवर शेखर भारती भी शामिल रहे। इस दौरान फॉरेंसिक टीम भी साथ ही मौजूद रही। हर सबूत को बारीकी से परखा जा रहा है। घटनास्थल पर भारी संख्या में पुलिसबल तैनात रहा। क्राइम सीन रिक्रिएशन के दौरान क्या कुछ हुआ जानिए.. 

lakhimpur kheri case, sit recreates crime scene with ashish mishra monu and ankit das

क्राइम सीन रिक्रिएट हुआ
भारी सुरक्षा के बीच दोपहर में सभी आरोपियों को तिकुनिया में घटना वाली जगह पर लाया गया।  SIT ने वहां क्राइम सीन रिक्रिएट करने की कोशिश की।
इसके लिए घटनास्थल पर कुछ लोगों को प्रदर्शनकारी बनाकर काले झंडे लेकर खड़ा किया गया, कुचले गए लोगों के पुतले बनाकर सड़क पर खड़ा किया गया। इसके बाद पुतलों के ऊपर से गाड़ियों के काफिले को गुजारा गया।

lakhimpur kheri case, sit recreates crime scene with ashish mishra monu and ankit das

कड़ियां जोड़ने में जुटी SIT
SIT यह समझने की कोशिश कर रही है कि घटना किन परिस्थितियों में हुई। जिस वक्त क्राइम सीन रिक्रिएट किया जा रहा था, उस दौरान SIT के अधिकारी अशीष मिश्रा से घटना को लेकर जानकारी लेते दिखे। जहां किसानों को कुचला गया और जहां हिंसा के बाद आशीष मिश्रा के ड्राइवर और अन्य लोगों की मौत हुई, उन जगहों का निरीक्षण कर SIT टीम वारदात की कड़ियां जोड़ने में जुटी है।

lakhimpur kheri case, sit recreates crime scene with ashish mishra monu and ankit das

इलाके की घेराबंदी
आशीष मिश्र और अन्य आरोपियों को तिकुनिया में घटनास्थल पर ले जाने से पहले वहां सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए थे। यूपी पुलिस और पीएसी के जवानों को भारी संख्या में घटनास्थल के आसपास तैनात किया गया था। पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गई थी।

lakhimpur kheri case, sit recreates crime scene with ashish mishra monu and ankit das

एडवांस सर्विलांस सिस्टम की मदद
आशीष मिश्रा की घटनास्थल पर मौजूदगी पर भले ही अंकित दास और खुद आशीष मिश्रा ने इनकार किया हो लेकिन जांच कर रही लखीमपुर पुलिस अब एडवांस सर्विलांस सिस्टम की मदद लेगी। मोबाइल टावर के साथ-साथ इंटरनेट कनेक्टिविटी की मदद लेकर आशीष मिश्रा की मौजूदगी पर छानबीन की जाएगी। पुलिस ने इसके लिए आशीष मिश्रा के दोनों ही मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल के साथ-साथ उसके इंटरनेट कनेक्टिविटी का बिल डिटेल मंगाया है।

lakhimpur kheri case, sit recreates crime scene with ashish mishra monu and ankit das

क्या है मामला
3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में प्रदर्शन कर रहे किसानों को SUV से कुचल दिया गया था। इस घटना और उसके बाद हुई हिंसा में 8 लोगों की मौत हो चुकी है। मामले में मुख्य आरोपी केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र का बेटा आशीष है। आशीष को कुछ दिन पहले ही SIT ने लंबी पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया है। बुधवार को कोर्ट ने आशीष समेत अन्य आरोपियों की जमानत याचिका खारिज कर दी थी।


Leave a Comment

error: Content is protected !!
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

I Have Disabled The AdBlock Reload Now