कोरोना से जूझ रहे देश को मिली राहत भरी खबर, रूसी वैक्सीन स्पुतनिक-वी की पहली खेप पहुंची हैदराबाद

नई दिल्ली, 1 मई

कोरोना के सबसे भयावह संकट और वैक्सीन की कमी से जूझ रहे देश को आज शनिवार एक राहत भरी खबर मिली है। रूसी वैक्सीन स्पुतनिक-वी की पहली खेप आज शनिवार को हैदराबाद पहुंच चुकी है। यहां राजीव गांधी एयरपोर्ट पर भारतीय अधिकारियों ने वैक्सीन की पहली खेप को प्राप्त कर लिया है। रूसी अधिकारियों का एक दल भी साथ था उन्होंने ये वैक्सीन भारत को हैंडओवर की है। 

ये वैक्सीन कोरोना वायरस के खिलाफ 90 फीसदी से ज्यादा कारगर है। वैक्सीनेशन में तेज़ी लाने के मकसद से केंद्र सरकार ने हाल ही में भारत में स्पुतनिक-वी को इमेरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी थी। रूस द्वारा निर्मित वैक्सीन को गमालया नेशनल रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी द्वारा विकसित किया गया है।

आरडीआईएफ के प्रमुख किरिल दिमित्रिक ने कहा कि उम्मीद है कि रूस की यह वैक्सीन सप्लाई भारत को कोरोनो वायरस महामारी की दूसरी लहर से बचान में कारगर होगी। हालांकि इस वैक्सीन की क्षमता पर सवाल भी खड़े किए गए थे। लेकिन बाद फरवरी में ट्रायल के डेटा को द लांसेट में पब्लिश किया गया तो इसमें इस वैक्सीन को सेफ और इफेक्टिव बताया गया। दरअसल कोविड-19 के रूसी टीके ‘स्पूतनिक-वी के तीसरे चरण के परीक्षण में यह 91.6 प्रतिशत प्रभावी साबित हुई है और कोई दुष्प्रभाव भी नजर नहीं आया।

Leave a Comment