ED रेड के सियासी संग्राम में कूदे कैप्टन, चन्नी गवर्नमेंट को बताया…

The News Air- पंजाब में CM चरणजीत चन्नी के भतीजे पर अवैध रेत खनन के मामले में एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) की रेड के सियासी संग्राम में कैप्टन अमरिंदर सिंह भी कूद पड़े हैं। उन्होंने कहा कि ईडी रेड में मिले करोड़ों रुपए से चन्नी सरकार सूटकेस की सरकार साबित हुई है। जिन्होंने आखिरी 3 महीने में पंजाब में ट्रांसफर और पोस्टिंग की इंडस्ट्री चलाई। कैप्टन ने रेत खनन मामले में सोनिया गांधी को भी घेरा। कैप्टन ने कहा कि अवैध रेत खनन में किस मंत्री और विधायक पर कार्रवाई करें, इसको लेकर सोनिया ने कोई जवाब नहीं दिया।

अवैध रेत खनन वालों पर कार्रवाई न करने का अफ़सोस

कैप्टन ने कहा कि चरणजीत चन्नी के भांजे पर हुई रेड उनके द्वारा दर्ज़ करवाए केस का फॉलोअप है। जिसकी जांच के लिए उन्होंने ही आदेश दिए थे। दुर्भाग्य से वह पंजाब में अवैध रेत खनन में शामिल विधायकों के ख़िलाफ़ कार्रवाई नहीं कर सके। ऐसा वह पार्टी की छवि ख़राब होने के डर की वजह से नहीं कर सके।

MeToo मामले में मदद पर अफ़सोस जताया

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्हें अफ़सोस है कि चरणजीत चन्नी के ख़िलाफ़ MeToo मामले में उन्होंने मदद की। कैप्टन ने कहा कि उस वक़्त चन्नी उनके पैरों में गिर पड़े थे। अब उन्होंने रंग बदल लिया है। अब चन्नी कह रहे हैं कि वह मुझसे 2 साल से छुटकारा पाना चाहते थे।

PM का रूट जानबूझकर ब्लॉक किया गया

पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने CM चरणजीत चन्नी पर बड़ा अटैक किया है। उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी का रूट जानबूझकर ब्लॉक किया गया था। इसके पीछे पंजाब की कांग्रेस सरकार है। कैप्टन ने कहा कि जब वह पहले हाइवे से निकले तो वह खुला था। पीएम के आने पर उसे ब्लॉक करवाया गया। चन्नी सरकार ने पुलिस को कहा था कि हाइवे ब्लॉक करने वालों को न हटाएं।

Leave a Comment