VIP सिक्योरिटी पर मान सरकार का एक्शन, इन सांसद नेताओं समेत 8 नेताओं की सुरक्षा घटाई

The News Air: पंजाब में VIP सिक्योरिटी पर फिर CM भगवंत मान की अगुवाई वाली सरकार ने कैंची चलाई है। पंजाब के 8 नेताओं की सुरक्षा में भारी कटौती कर दी गई है। इन नेताओं में सांसद हरसिमरत कौर बादल, पूर्व सीएम राजिंदर कौर भट्‌ठल और पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान सुनील जाखड़ भी शामिल हैं। सुरक्षा कटौती के बाद 127 पुलिसकर्मी और 9 पायलट वाहन वापस ले लिए गए हैं। मान सरकार का कहना है कि इन्हें अब जनता की सुरक्षा के लिए पुलिस थाने में वापस ले लिया जाएगा।

पढ़िए … किसकी सिक्योरिटी में कितनी कटौती

सांसद हरसिमरत कौर बादल : पंजाब पुलिस ने इन्हें जेड सिक्योरिटी कैटेगरी में रखा था। इनके पास 13 कर्मचारी और एक वाहन था। अब उनकी सुरक्षा वाई कैटेगरी की कर दी गई है। उनके पास सिर्फ़ 11 कर्मचारी रहेंगे। 2 कर्मचारी और वाहन वापस मंगवा लिया गया है।
राजिंदर कौर भट्‌ठल : पंजाब की पूर्व सीएम राजिंदर कौर भट्‌ठल के पास 36 पुलिसकर्मी और 3 वाहन थे। उन्हें वाई कैटेगरी की सिक्योरिटी थी। अब इनसे 28 पुलिसकर्मी और तीनों वाहन वापस ले लिए गए हैं। भट्‌ठल की सिक्योरिटी में सिर्फ़ 8 पुलिसकर्मी रहेंगे।
सुनील जाखड़ : पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान जाखड़ को जेड सिक्योरिटी कैटेगरी में रखा गया था। उनके साथ 14 पुलिसकर्मी और एक वाहन था। मान सरकार का तर्क है कि उन्हें कोई सिक्योरिटी थ्रेट नहीं है। उनके 12 पुलिसकर्मी और एक वाहन वापस ले लिया गया है।
ओपी सोनी : पूर्व कांग्रेसी डिप्टी सीएम ओपी सोनी को जेड सिक्योरिटी कैटेगरी में रखा गया था। उनकी सुरक्षा में 37 कर्मचारी और 1 वाहन था। अब वाहन और 19 कर्मचारी वापस ले लिए गए हैं।
केवल सिंह ढिल्लों : पूर्व विधायक केवल ढिल्लों को वाई प्लस कैटेगरी में रखा गया था। उनके साथ 11 पुलिसकर्मी और एक वाहन था। अब सरकार ने सब वापस ले लिया है।
विजयइंदर सिंगला : पूर्व शिक्षा मंत्री विजयइंदर सिंगला को पंजाब पुलिस ने जेड सिक्योरिटी में रखा था। उनके साथ 22 कर्मचारी और एक वाहन था। अब उनसे 18 पुलिस कर्मी और वाहन वापस ले लिया गया है। उनके पास सिर्फ़ 4 गनमैन रहेंगे।
परमिंदर सिंह पिंकी : पूर्व कांग्रेसी विधायक परमिंदर पिंकी को जेड सिक्योरिटी मिली थी। उनकी सुरक्षा में 28 पुलिसकर्मी और एक वाहन था। अब उनसे 26 पुलिसकर्मी और वाहन वापस ले लिया गया है।
नवतेज चीमा: नवजोत सिद्धू के क़रीबी पूर्व विधायक नवतेज चीमा को वाई प्लस सिक्योरिटी की कैटेगरी में रखा गया था। उनके साथ 13 पुलिसकर्मी और एक वाहन था। अब उनके पास सिर्फ़ 2 गनमैन रहेंगे। 11 गनमैन और वाहन वापस ले लिया गया है।

AAP बोली- स्टेट्स सिंबल बना रखा था

आम आदमी पार्टी पंजाब के मुख्य प्रवक्ता मालविंदर कंग ने कहा कि कुछ नेताओं ने सुरक्षा को स्टेट्स सिंबल बना रखा था। पुलिस कर्मियों से ड्राइवर और घर का काम लिया जा रहा था। अब वह बाहर आकर जनता की सुरक्षा करेंगे।

चीमा बोले- जिस दिन कोई नेता मरा, पता चलेगा

सुरक्षा वापस होने के बाद पूर्व विधायक नवतेज चीमा ने कहा कि सुरक्षा इंटेलिजेंस रिपोर्ट के आधार पर मिलती है। जिसमें देखा जाता है कि किसे कितना ख़तरा है?। उन्होंने कहा कि जिस दिन कोई नेता मरा तो आम आदमी पार्टी की सरकार को पता चलेगा।

Leave a Comment