राशन कार्ड धारकों को 1000 की जगह 2500 रुपये मिलना चाहिए – GK वासन

Tamil Nadu: केंद्र सरकार की ओर से देश के किसानों समेत कैटेगरी के लोगों के लिए कई तरह की योजनाएं चलाई जाती हैं। इन्हीं योजनाओं में से एक राशन कार्ड योजना भी है। इस योजना के तहत सरकार गरीबों को फ्री राशन मुहैया करा रही है। वहीं राशन कार्ड पर रसोई गैस पर सब्सिडी भी दी जाती है। केंद्र के साथ ही राज्य सरकारें भी अपने-अपने स्तर पर राशन कार्ड धारकों (Ration card holders) को लाभ पहुंचा रहीं हैं। इस तमिलनाडु सरकार ने राज्य के राशनकार्ड धारकों को 1000-1000 रुपये उनके अकाउंट में ट्रांसफर करने का ऐलान किया है।

बता दें तमिलनाडु सरकार (Tamil Nadu Government) पोंगल पर यानी जनवरी महीने में राज्य के सभी राशनकार्ड धारकों के खाते में नकद राशि ट्रांसफर करती है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, इस समय पर राज्य में करीब 2.20 करोड़ राशन कार्डधारक हैं।

1000 रुपये देने का ऐलान

साल 2003 में थाई पोंगल मनाने के लिए राज्य के सीएम ने श्रीलंका के तमिल पुनर्वास शिविरों (Sri Lankan Tamil rehabilitation camps) में रहने वालों को 1000 रुपये देने का ऐलान किया है। इसके साथ ही सभी राशन कार्ड धारकों को 1 किलो चावल फ्री में देने के निर्देश दिए हैं। राज्य में पोंगल का त्योहार 15 जनवरी को मनाया जाएगा। तमिलनाडु में हर साल पोंगल के मौके पर गरीब और जरूरतमंदों को कुछ राशि दी जाती है। इसी के साथ ही गिफ्ट के तौर पर चीनी, चावल आदि राशन का सामान बांटा जाता है। ताकि राज्य का हर व्यक्ति पोंगल पर्व को खुशी के साथ मना सके।

पैकेज में गन्ना नहीं शामिल

इस बीच पोंगल पैकेज में गन्ने को शामिल नहीं किया गया है। ऐसे में विपक्ष के नेता एडप्पादी पलानीस्वामी ने गन्ना नहीं बांटने पर सरकार की आलोचना की है। पलानी स्वामी ने पोंगल पैकेज में 5000 रुपये देने पर जोर दिया था। वहीं तमिल मनीला कांग्रेस के अध्यक्ष (Tamil Maanila Congress President) जीके वासन (GK Vasan) ने भी सरकार से 5000 देने की मांग की थी। वासन ने कहा कि तमिलनाडु सरकार ने 1000 रुपये देने की घोषणा की है। ये पैसे बहुत कम हैं। कम से 2500 रुपये देना ही चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने आगे कहा कि राशन कार्ड धारकों को गन्ना भी दिया जाए।

Leave a Comment