भारी तूफान-बारिश और भूस्खलन के बीच अब हिमाचल में आया भूकंप

शिमला, 12 अगस्त (The News Air)
बड़ी ख़बर हिमाचल प्रदेश में आ रही है। सूबे की राजधानी शिमला में सुबह आठ बजे के क़रीब भूकंप आया है। मौसम विभाग के शिमला केंद्र ने इसकी पुष्टि की है। फ़िलहाल जानमाल का कोई नुक्सान नहीं हुआ है। जानकारी के अनुसार, 7 बजकर 58 मिनट पर भूकंप आया है। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 2.8 मापी गई है। जानमाल का नुक्सान नहीं हुआ है। वहीं, हल्की तीव्रता होने के चलते लोगों को ये झटके महसूस नहीं हुए हैं। भूकंप का केंद्र शिमला से 10 किलोमीटर दूर बताई जा रही है।
वहीं बुधवार को किन्नौर स्थित निगुलसारी से दो किलोमीटर पहले रामपुर की तरफ़ अचानक हुई लैंड स्लाइड में मलबे के नीचे बस दबने से बड़ा हादसा हो गया है। जानकारी के अनुसार, अभी भी बस मलबे में ही दबी हुई है। वहीं बचाव दल मौक़े पर पहुंच कर राहत और बचाव कार्य में जुट गया है। अब तक 13 लोगों को रेस्क्यू कर लिया गया है। वहीं 13 लोगों की हादसे में मौत हो चुकी है। इसमें से 10 शव कल मिले थे। वहीं 3 शव आईटीबीपी को आज रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान मिले हैं।
बता दें कि हिमाचल में सबसे अधिक भूकंप चंबा ज़िले में आते हैं। इसके बाद किन्नौर, शिमला, बिलासपुर और मंडी संवेदनशील ज़ोन में हैं। शिमला ज़िले को लेकर भी चेतावनी दी गई थी कि यह शहर भूकंप जैसी आपदा के लिए तैयार नहीं है। इसके अलावा किन्नौर में 1975 में बड़ा भूकंप आ चुका है। वहीं, कांगड़ा में 1905 में भूकंप आया था, जिसमें 20 हज़ार लोगों की जान गई थी।
हिमाचल में सबसे अधिक भूकंप चंबा ज़िले में आते हैं। इसके बाद किन्नौर, शिमला, बिलासपुर और मंडी संवेदनशील ज़ोन में हैं। शिमला ज़िले को लेकर भी चेतावनी दी गई थी कि यह शहर भूकंप जैसी आपदा के लिए तैयार नहीं है। इसके अलावा किन्नौर में 1975 में बड़ा भूकंप आ चुका है। वहीं, कांगड़ा में 1905 में भूकंप आया था, जिसमें 20 हज़ार लोगों की जान गई थी।
हिमाचल प्रदेश के चम्बा ज़िले के बाद अब किन्नौर में भूकंप के हलक़े झटके महसूस किए गए थे। हालांकि, तीव्रता कम होने के चलते ये झटके महसूस नहीं हुआ। लेकिन चिन्ता की बात जरुर है। चंबा में दिन में धरती डोली, वहीं, रात को किन्नौर में हलक़े झटके लगे। किन्नौर में देर रात भूकंप आया था।
इससे पहले, चंबा में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 3।5 थी। इस दौरान किसी तरह का कोई नुक्सान नहीं हुआ था। मौसम विभाग के शिमला केंद्र ने भूकंप की पुष्टि की थी।

Leave a Comment