1 हफ्ते में 5% से ज्यादा की गिरावट के बावजूद शेयरखान को पसंद आ रहा ये शेयर, क्या आप भी करेंगे निवेश

SRF  Share price- स्पेशियलिटी केमिकल  सेगमेंट की कंपनी SRF पर शेयरखान का नजरिया बुलिश नजर आ रहा है। 04 अक्टूबर 2022 को एसआरएफ पर जारी अपने नोट में शेयरखान ने इस स्टॉक में खरीदारी की सिफारिश की है। शेयरखान का कहना है कि वित्त वर्ष 2023 के दूसरी तिमाही के नतीजे कमजोर रहे है। इस अवधि में कंपनी के ऑपरेटिंग प्रॉफिट/ मुनाफे में सालाना आधार पर 15 फीसदी और 12 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है जबकि तिमाही आधार पर इसमें 23 फीसदी और 21 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है।

इस अवधि में कंपनी की ऑपरेटिंग प्रॉफिट 769 करोड़ रुपये रहा है। जबकि PAT या मुनाफा 481 करोड़ रुपये पर रहा है। कंपनी के टेक्निकल टेक्सटाइल और पैकेजिंग फिल्म के मार्जिन पर दबाव के कारण कंपनी का प्रदर्शन कमजोर रहा है। इस अवधि में कंपनी के फिल्म, पैकेजिंग और एबिट मार्जिन में सालाना आधार पर 913 बेसिस प्वाइंट और तिमाही आधार पर 1031 बेसिस प्वाइंट की गिरावट देखने को मिली है।

शेयर की चाल पर नजर डालें तो 07 नवंबर को SRF एनएसई पर 56.30 रुपये यानी 56.30 फीसदी की गिरावट के साथ 2425.90 रुपये के स्तर पर बंद हुआ था। 7 नवंबर को इस स्टॉक का डे लो 2,407.40 रुपये का था। जबकि स्टॉक का डे हाई 2,772.00 रुपये का था। स्टॉक का 52 वीक हाई 2,865.00 रुपये है जबकि 52 वीक लो 1,973.10 रुपये का है। 07 नवंबर को स्टॉक का वॉल्यूम 857,058 शेयरों का था। कंपनी का मार्केट कैप 71,909 करोड़ रुपये है।

इस स्टॉक में Amansa Holdings Private Limited ने भी निवेश कर रखा है। स्टॉक मे उनकी 3.65% हिस्सेदारी है। स्टॉक की चाल पर नजर डालें तो 1 हफ्ते मे यह स्टॉक 5.19 फीसदी टूटा है जबकि 1 महीने में इसमें 5.25 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है । वहीं 3 महीने में यह शेयर 2.91 फीसदी गिरा है। बता दें कि साल 2022 में अब तक इस शेयर में 0.24 फीसदी की तेजी देखने को मिली है। इस तरह 1 साल में यह शेयर 15.56 फीसदी भागा है जबकि 3 साल में इस शेयर में 285.22 फीसदी की तेजी देखने को मिली है।

बता दें कि कमजोर BOPET स्प्रेरड , पावर की बढ़त लागत, कम यूटिलाइजेशन दर का निगेटिव असर देखने को मिला है। इसी तरह कंपनी के टेक्निकल टेक्सटाइल एबिट मार्जिन में सालाना और तिमाही आधार पर गिरावट देखने को मिली है और यह 13.5 फीसदी पर रहा है। हालांकि इस अवधि में केमिकल सेगमेंट की एबिट मार्जिन 28.3 फीसदी की मजबूत स्तर पर रही है।

कंपनी के केमिकल कारोबार को स्पेशियलिटी केमिकल  और यूरो केमिकल कारोबार में मजबूती का फायदा मिला है। ब्रोकरेज हाउस का मानना है कि आगे कंपनी के पैकेजिंग फिल्म मार्जिन पर दबाव कायम रहने की संभावना है। अपने इस विश्लेषण के आधार पर शेयरखान ने इस स्टॉक की Buy रेटिंग बनाए रखते हुए अपने टारगेट को 2,960 रुपये पर बरकरार रखा है।

ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि आगे कंपनी के चाइना प्लस वन पॉलिसी और मजबूत कैपेक्स प्लान का फायदा मिलेगा।

(डिस्क्लेमर: Thenewsair.com पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सार्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

Leave a Comment