कैप्टन अमरिंदर देंगे इस्तीफ़े, सुनील जाखड़ हो सकते हैं पंजाब के नए CM

नई दिल्ली, 18 सितंबर (The News Air)
पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह के इस्तीफ़े की अटकलें तेज़ हो गई हैं. सूत्रों के हवाले से बड़ी ख़बर पंजाब (Punjab) से आ रही है जहां मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) को हाईकमान ने इस्तीफ़ा देने को कहा है. इस सिलसिले में आज कैप्टन ने सोनिया गांधी से फ़ोन पर बात की थी. इस चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि वो अपमान बर्दाश्त नहीं करेंगे. इस अपडेट के बाद सीएम अमरिंदर सिंह दोपहर 3 बजे राज्यपाल से मिल सकते हैं.
वहीं दूसरी बड़ी ख़बर ये है कि पंजाब में अगर नेतृत्व बदलता है. तो सुनील जाखड़ (Sunil Jakhar) नए मुख्यमंत्री बन सकते हैं. आज सुनील जाखड़ ने एक ट्वीट किया था. जिसमें उन्होंने लिखा, ‘राहुल गांधी ने पंजाब कांग्रेस के विवाद को सुलझाने के लिए जो क़दम उठाया है उस साहसी निर्णय से कांग्रेस कार्यकर्ताओं में उत्साह है. इसके साथ ही अकालियों को झकझोर कर रख दिया है.’

सीएम समर्थक भी एक्टिव-मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सुबह से जारी हलचल के बीच राज्यसभा सांसद प्रताप बाजवा, लोकसभा सांसद गुरजीत औजला, जसबीर डिम्पा, विधायक राणा गुरजीत, राणा गुरमीत सोढ़ी और अन्य विधायकों से फ़ोन पर बातचीत की है. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सबसे बातचीत कर उनकी राय लें रहें हैं.

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष का बड़ा बयान-पंजाब में कांग्रेस विधायक दल की महत्वपूर्ण बैठक से पहले पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने शनिवार को कहा कि राहुल गांधी ने पार्टी की राज्य इकाई में उलझी हुई गुत्थी को सुलझाने का जो रास्ता अपनाया है, उसने न सिर्फ़ कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया है, बल्कि अकाली दल (AD) की बुनियाद भी हिल गई है.

शाम पांच बजे है CLP की बैठक-कांग्रेस की पंजाब इकाई में जारी तनातनी के बीच अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) के निर्देश पर शनिवार शाम राज्य के कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई गई है. कांग्रेस महासचिव और पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत ने शुक्रवार रात को इस बारे में घोषणा की. बैठक में अजय माकन और हरीश चौधरी बतौर आब्जर्वर मौजूद रहेंगे. वहीं पंजाब कांग्रेस में चल रही खींचतान के बीच सुनील जाखड़ ने ट्विटर के माध्यम से अपनी प्रतिक्रिया दी. आप भी देखिये उनका ट्वीट

कैप्टन और सिद्धू के बीच चल रही तनातनी-मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के बीच पिछले कई महीनों से चल रही तनातनी की पृष्ठभूमि में हो रही विधायक दल की इस बैठक की वजह से नेतृत्व परिवर्तन की भी अटकलें लग रही हैं, हालांकि अभी पार्टी की तरफ़ से कुछ नहीं कहा गया है. याद रहे कि पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. लेकिन, पार्टी में गुटबाज़ी चरम पर है. हरीश रावत की तमाम कोशिशों के बाद भी कैप्टन अमरिंदर और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच सुलह नहीं हो पा रही है.

Leave a Comment