Anand Mahindra बोले- जय हो! कुछ इस अंदाज में की भारत में दुनिया की सबसे ऊंची सुरंग के निर्माण की तारीफ

Anand Mahindra : BRO के 16,850 फुट की ऊंचाई पर स्थित शिंकू ला पास (Shinku La Pass) पर किए जा रहे दुनिया की सबसे ऊंची सुरंग के निर्माण पर अरबपति बिजनेसमैन आनंद महिंद्रा ने सिर्फ दो शब्द कहे- ‘जय हो।’ यह सुरंग 2025 तक हिमाचल प्रदेश को लद्दाख से जोड़ देगी। सीमा सड़क संगठन (BRO) का वादा है कि इससे जंस्कार घाटी (Zanskar Valley) की अर्थव्यवस्था पूरी तरह बदल जाएगी।

जुलाई से शुरू होगा निर्माण

बीआरओ के डायरेक्टर जनरल लेफ्टिनेंट जनरल राजीव चौधरी ने कहा कि BRO इस साल जुलाई तक लद्दाख में जंस्कार घाटी को हिमाचल प्रदेश से जोड़ने वाली सुरंग का निर्माण कार्य शुरू कर देगी। केंद्र सरकार इस महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए बीआरओ को ‘प्रोजेक्ट योजक’ बना चुकी है।

उन्होंने कहा, सुरंग का दक्षिणी हिस्सा शिंकू ला में और उत्तरी हिस्सा लखांग में खुलेगा।

वर्तमान में 101 किमी का है सफर

वर्तमान में, लेह रोड पर मनाली से दारचा जाने के लिए 101 किमी का सफर तय करना होता है और उसके बाद दारचा शिंकू ला पास की ओर मुड़कर जंस्कार घाटी में प्रवेश करते हैं।

डीजी ने शिंकू ला-पदम रोड के साथ मनाली लेह रोड को रिकॉर्ड समय में बहाल करने के लिए बीआरओ कर्मचारियों के प्रयासों की सराहना की।

इस अवसर पर, बीआरओ प्रोजेक्ट दीप के चीफ इंजीनियर पी के बरुओ, प्रोजेक्ट योजक चीफ इंजीनियर जितेंद्र प्रसाद, कमांडर 38 बीआरटीएफ कर्नल शबरीश वाचाली, रिगजिन हैरप्पा, लाहौल जिला परिषद के पूर्व सदस्य और दारचा, चिक्का, जिस्पा और ररीक के लोगों ने इस विकास कार्य के लिए बीआरओ के डीजी के प्रति आभार प्रकट किया है।

बीआरओ की टीम रोहतांग पास से शिंकू ला शिफ्ट हो चुकी है। रोहतांग स्थिति अटल टनल के चीफ इंजीनियर शिंकू ला सुरंग और दोनों सिरों को जोड़ने वाली सड़कों के निर्माण का काम देखेंगे।

Leave a Comment