पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप राशी घोटाले के खिलाफ आम आदमी पार्टी ने कैप्टन अमरिंदर सिंह गृह के समक्ष किया रोष प्रर्दशन

चंडीगढ़, 14 जून

Aam Aadmi Party: कांग्रेस सरकार द्वारा दलित वर्ग के विद्यार्थियों की पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप (वजीफा) राशी में किए घोटाले के खिलाफ आज आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब की ओर से प्रदेश के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के सरकारी गृह के समक्ष धरना प्रदर्शन किया गया। ‘आप’ के सीनियर नेता और पंजाब विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा के नेतृत्व में मुख्यमंत्री के गृह स्थान के समक्ष बड़ी संख्या में पहुंचे वर्करों के साथ-साथ नेता प्रतिपक्ष की उप नेता बीबी सरबजीत कौर माणूंके, मास्टर बलदेव सिंह जैतों, प्रिंसिपल बुद्ध राम, जगतार सिंह जग्गा हिस्सोवाल, मनजीत सिंह बिलासपुर, कुलवंत सिंह पंडोरी (सभी विधायक) व हलका पायल के इंचार्ज मनविन्दर सिंह ग्यासपुरा ने रोष प्रदर्शन किया। ज़ोर-शोर के साथ चल रहे धरने के दौरान चंडीगढ़ पुलिस की ओर से ‘आप’ के विधायकों और नेताओं को ज़बरदस्ती हिरासत में ले कर सैक्टर 17 के थाने में भेज दिया गया। पुलिस की ओर से हिरासत में लिए ‘आप’ के सीनियर नेता मनविन्दर सिंह ग्यासपुरा ने अपने ऐलान के मुताबिक पुलिस हिरासत में ही भूख हड़ताल शुरू कर दी है। 

1 8

इस समय पंजाब विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने दलित वर्ग के दो लाख विद्यार्थियों की वजीफा राशी में करोड़ों रुपए घोटाला करके विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है। उन्होंने कहा कि सरकार के संरक्षण पर पुलिस प्रशासन ने हमारे रोष प्रदर्शन करने का संवैधानिक हक को मारा है, परन्तु आम आदमी पार्टी अपना संघर्ष जारी रखेगी और ‘आप’ वर्करों की ओर से 15 जून को पंजाब के सभी जिलों में डिप्टी कमिश्नरों के दफ्तरों के समक्ष भूख हड़ताल की जाएगी। चीमा ने कहा कि जब तक वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल और समाज भलाई मंत्री साधु सिंह धर्मसोत के खिलाफ एस.सी/एस.टी एक्ट के अधीन केस दर्ज नहीं किया जाता तब तक ‘आप’ का संघर्ष जारी रहेगा।

02

सीनियर नेता मनविन्दर सिंह ग्यासपुरा ने कहा कि सीनियर आई.ए.एस अधिकारी कृपा शंकर सिरोज की ओर से पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप घोटाले की दी जांच रिपोर्ट में खुलासा किया गया है कि समाज भलाई मंत्री की ओर से वजीफा राशी अपने नजदीकी नकली कालेजों के प्रबंधकों को दी गई है। इस कारण प्राईवेट कालेजों को रकम प्राप्त नहीं हुई और लाखों दलित विद्यार्थियों से पढ़ाई का हक छीन लिया गया है। ग्यासपुरा ने ऐलान किया कि पुलिस हिरासत के दौरान भी उनकी भूख हड़ताल जारी रहेगी।

4 1

नेता प्रतिपक्ष की उप नेता बीबी सरबजीत कौर माणूंके, प्रिंसिपल बुद्ध राम और मास्टर बलदेव सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी की ओर से दलित विद्यार्थियों की वजीफा राशी के घोटाले के खिलाफ आवाज बुलंद करने पर भले ही कैप्टन सरकार ने कुछ रकम प्राईवेट कालेजों को जारी कर दी है, परन्तु जब तक बकाया राशी 1539 करोड़ रुपए सरकार जारी नहीं करती तब तक दलित विद्यार्थी अपनी, परीक्षाओं में नहीं बैठ सकेंगे।

05

‘आप’ नेताओं ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान दलित वर्ग के हकों पर डाके मारे हैं। सरकार ने जहां दलित विद्यार्थियों की वजीफा राशी का घोटाला किया है, वहीं दलित नौजवानों को नौकरियां देने और मुलाजि़मों को तरक्कियां देने में पक्षपात किया है। उन्होंने कहा कि पंजाब विधान सभा के चुनाव नजदीक आते देख कैप्टन सरकार पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप राशी की कुछ रकम जारी करके खानापूर्ति ही की है, परन्तु पंजाब के लोग कांग्रेस सरकार की ओर से बेइंसाफियों का हिसाब कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस पार्टी से जरूर लेंगे।

Leave a Comment