भ्रष्टाचार के मामले में फंसे 2 पूर्व कांग्रेसी मंत्री

The News Air: राहुल गांधी के पंजाब आने से पहले 2 पूर्व कांग्रेसी मंत्री भ्रष्टाचार में फंस गए हैं। पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने पूर्व जंगलात मंत्री साधु सिंह धर्मसोत को गिरफ़्तार कर लिया है। धर्मसोत को अमलोह से सुबह क़रीब 3 बजे गिरफ़्तार किया गया। धर्मसोत के साथ कमलजीत सिंह और चमकौर सिंह को भी विजिलेंस ने पकड़ा है। कमलजीत एक वेब चैनल चलाता है। यह दोनों धर्मसोत के साथ OSD की हैसियत से काम कर रहे थे।
इन सब पर पेड़ कटाई से लेकर जंगलात विभाग के हर काम में रिश्वतखोरी करने का आरोप है। धर्मसोत के बाद जंगलात मंत्री बने संगत सिंह गिलजियां पर भी FIR दर्ज़ की गई है। गिलजियां के PA कुलविंदर सिंह और सचिन कुमार पर भी केस दर्ज़ हुआ है। इस केस में IFS अमित चौहान, मोहाली के वन मंडल अफ़सर गुरअमनप्रीत सिंह और वन गार्ड दिलप्रीत सिंह पर भी केस दर्ज़ हुआ है।

धर्मसोत को हटाने के बाद गिलजियां बने थे जंगलात मंत्री

धर्मसोत कैप्टन अमरिंदर सिंह के CM रहते जंगलात मंत्री थे। हालांकि, जब कैप्टन को हटाया गया तो धर्मसोत की भी मंत्री पद से छुट्‌टी कर दी गई। इसके बाद चरणजीत चन्नी CM बने। तब संगत सिंह गिलजियां को जंगलात मंत्री बनाया गया। पंजाब में CM भगवंत मान की अगुआई वाली AAP सरकार ने हाल ही में भ्रष्टाचार के मामले में अपने हेल्थ मिनिस्टर डॉ. विजय सिंगला को बर्खास्त कर दिया था।

जंगलात अफ़सरों ने खोली पोल

विजिलेंस ब्यूरो ने मोहाली के DFO और ठेकेदार हामी को रिश्वतखोरी के आरोप में पकड़ा था। उन्होंने पूछताछ में बताया कि धर्मसोत एक पेड़ काटे जाने के बदले 500 रुपए की रिश्वत लेते थे। इसके अलावा नए पेड़ लगाने के बदले भी रिश्वत ली ज़ाती थी। इसका हिस्सा सीधे तत्कालीन मंत्री धर्मसोत के पास भी जाता था। इसी पूछताछ के आधार पर धर्मसोत को विजिलेंस ब्यूरो ने गिरफ़्तार किया। धर्मसोत से मोहाली विजिलेंस हेडक्वार्टर में पूछताछ की जा रही है।

पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप घोटाले में भी घिरे रहे

साधु सिंह धर्मसोत पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप घोटाले में भी घिरे रहे। उनके सामाजिक सुरक्षा मंत्री रहते आरोप लगे कि ग़लत तरीक़े से स्कॉलरशिप का पैसा प्राइवेट कॉलेजों और यूनिवर्सिटीज़ को दे दिया गया। इसको लेकर ख़ूब हंगामा भी हुआ। इसके बावज़ूद तत्कालीन कैप्टन सरकार ने धर्मसोत को क्लीन चिट दे दी।

4 पूर्व कांग्रेसी मंत्री हो चुके भाजपा में शामिल

दो दिन पहले ही पंजाब की कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे 4 नेता भाजपा में शामिल हो चुके हैं। इनमें गुरप्रीत कांगड़, बलबीर सिद्धू, सुंदर शाम अरोड़ा और राजकुमार वेरका शामिल हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हाल ही में कहा था कि उनकी सरकार में कुछ मंत्री और विधायक भ्रष्ट रहे। ख़ासकर, कई नेता अवैध रेत खनन और शराब के कारोबार में शामिल रहे। उन्होंने कांग्रेस हाईकमान को जानकारी दी थी, लेकिन कोई एक्शन नहीं ले सके। कैप्टन ने यह फाइलें CM भगवंत मान को देने की बात कही थी।

Leave a Comment