Zomato के शेयर में 4% की गिरावट, सीटीओ गुंजन पाटीदार के इस्तीफे से बढ़ा प्रेशर

Zomato Share Price : जोमैटो के शेयर मंगलवार, 3 जनवरी को बीएसई पर इंट्राडे में लगभग 4 फीसदी कमजोर होकर 57.65 रुपये के स्तर पर आ गए। दरअसल, फूड एग्रीगेटर कंपनी ने एक रेगुलेटरी फाइलिंग में बताया कि जोमैटो के कोफाउंडर और चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर गुंजन पाटीदार (Gunjan Patidar) ने इस्तीफा दे दिया है। पाटीदार Zomato के मूल फाउंडर्स की टीम का हिस्सा थे। पूर्वाह्न 11 बजे जोमैटो का शेयर 1.90 फीसदी कमजोर होकर 59 रुपये के आसपास कारोबार कर रहा है। पाटीदार जोमैटो के शुरुआती तीन कर्मचारियों में शामिल थे और उन्होंने कंपनी का मुख्य टेक सिस्टम तैयार किया था।

तैयार की शानदार टेक टीम

जोमैटो ने एक फाइलिंग में कहा, बीते 10 साल के दौरान उन्होंने एक शानदार टेक लीडरशिप टीम तैयार की जो टेक से जुड़े कामकाज को एक नए मुकाम पर ले जाने में सक्षम हुई। हालांकि, गुंजन पाटीदार कंपनी एक्ट, 2013 और सेबी रेगुलेशंस, 2015 के तहत कंपनी के मुख्य मैनेजेरियल पर्सनल (key managerial personnel) में शामिल नहीं थे। जोमैटो ने कहा, इसलिए उनका डिस्क्लोजर स्वैच्छिक था।

पिछले दो महीने में टॉप लेवल पर चौथा इस्तीफा

Gunjan Patidar से पहले कंपनी में कई बड़े इस्तीफे हो चुके हैं। 2018 के बाद इस्तीफा देने वाले वह चौथे कोफाउंडर हैं और इसके साथ ही पिछले दो महीने में उनके रूप में टॉप लेवल पर चौथा बड़ा इस्तीफा हुआ है। इससे पहले मोहित गुप्ता (कोफाउंडर), राहुल गंजू (हेड ऑफ न्यू इनीशिएटिव्स) और सिद्धार्थ झावर (हेड इंटरसिटी फूड डिलिवरी सर्विस) पिछले दो महीने के भीतर इस्तीफा दे चुके हैं।

एक महीने में 10 फीसदी टूटा शेयर

पिछले एक महीने में जोमैटो का शेयर 10 फीसदी कमजोर हो चुका है। वहीं बीते एक साल में शेयर 58 फीसदी टूट चुका है। स्टॉक ने 27 जुलाई, 2022 को 40.55 रुपये का रिकॉर्ड लो छुआ था। वहीं 16 नवंबर, 2021 को शेयर 169 रुपये के रिकॉर्ड हाई पर पहुंच गया था।

Zomato की 23 देशों में मजबूत पैठ है। इसके बिजनेस में अब कैश की जरूरत नहीं पड़ रही है। फूड बिजनेस एबिटडा ब्रेक ईवन में आ गया है। कंपनी स्तर पर इसे वित्त वर्ष 23 की चौथी तिमाही यानी वित्त वर्ष 24 की दूसरी तिमाही तक ब्रेक ईवन में लाने का लक्ष्य है।

Leave a Comment