योगी सरकार जून माह में एक करोड़ लगाएगी टीके, थमने लगा है करोना

लखनऊ, 28 मई

गले साल की शुरूआत में यूपी में चुनाव हैं. उससे पहले योगी सरकार सुपर एक्शन में है. कोशिश पब्लिक में ये मैसेज देने की है कि हम कोरोना काल में आपके साथ खड़े रहे. जिनके अपनों की मौत हुई या फिर उन्हें इलाज में बहुत परेशानी हुई, उनका ग़ुस्सा स्वाभाविक है. लेकिन सीएम योगी आदित्यनाथ का दावा है कि कोरोना अब कंट्रोल में है. वे खुद राज्य के तूफ़ानी दौरे पर हैं. ज़िले-ज़िले जाकर वे कोविड केयर सेंटर से लेकर अस्पतालों का जायज़ा ले रहे हैं. कोविड को लेकर शुरुआती हाहाकार के बाद अब हालात बेहतर होने लगे हैं.

योगी सरकार ने जून महीने में एक करोड़ लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा है. इसमें 45 साल से अधिक उम्र वाले हैं और 18 से 44 साल के आयु वाले भी. जून महीने से राज्य के सभी 75 ज़िलों में टीकाकरण का काम शुरू हो जाएगा. हर ज़िले में पत्रकारों, शिक्षकों और कचहरी में काम करने वाले लोगों के लिए अलग से वैक्सीन सेंटर बनेगा. 12 साल से कम उम्र के बच्चों के अभिभावकों को भी प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाया जाएगा.

कोरोना की दूसरी लहर को रोकने के लिए योगी सरकार थ्री टी के फ़ार्मूले पर काम कर रही है. थ्री टी मतलब टेस्ट, ट्रेस और ट्रीट. पहले टेस्ट करना फिर पॉज़िटिव रिपोर्ट आने पर मरीज़  के क़रीबियों को आइसोलेट करना और मरीज़ का इलाज करना. उत्तर प्रदेश में कोरोना के लगातार टेस्ट बढ़ रहे हैं और केस कम होते जा रहे हैं. पिछले 24 घंटे में यूपी में 3.58 लाख टेस्ट हुए, इसमें से 1.48 लाख RTPCR टेस्ट हुए. सरकार से मिली जानकारी के मुताबिक़ अब तक यूपी में 4.84 करोड़ टेस्ट हो चुके हैं. पॉजिटिव केस की संख्या में लगातार कमी, हो रही है. पिछले 24 घंटों में  सिर्फ 2402 नए केस आए. अब यूपी  में कुल एक्टिव केस 52244 हैं.

नए आंकड़ों के मुताबिक़ यूपी के 2 जिलों में कोई केस नहीं है. 16 जिलों में सिंगल डिजिट में केस हैं. वहीं 53 जिलों में डबल डिजिट में केस हैं और सिर्फ 4 जिलों में सैकड़ा में केस हैं. यूपी में  अब तक कुल 1 करोड़ 74 लाख लोगों को वैक्सीन लग चुकी है. इसमें से युवाओं की संख्या 16.69 लाख है.

Leave a Comment