आप के मुख्यमंत्री उम्मीदवार क्या पंजाबियों को बताएंगे कि वह पंजाब के एस.वाई.एल नहर पर..

The News Air- (चंडीगढ़) पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने आज कहा है कि पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के परिवार के सदस्यों ने 111 दिनों के मुख्यमंत्री के कार्यकाल के दौरान अवैध रेत खनन के जरिए करोड़ों रूपये कमाए हैं।
बठिंडा जिले में भुच्चो शिअद-बसपा उम्मीदवार दर्शन सिंह कोटफत्ता के चुनाव कार्यालय का उदघाटन करने के बाद एक सभा को संबोधित करते हुए बादल ने कहा , ‘‘ अब प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा मुख्यमंत्री के भतीजे के आवास पर छापेमारी और 11 करोड़ रूपये के सामान और पैसे की वसूली के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि राज्य में रेत माफिया श्री चन्नी द्वारा चलाया जा रहा है। उन्होने यह भी मांग की कि स्वघोषित ‘‘ गरीब’’ मुख्यमंत्री को पंजाबियों को बताना चाहिए कि उनके सबसे करीब रिश्तेदार के पास 11 करोड़ रूपये की बेनामी धनराशि कैसे पाई गई।

शिअद-बसपा के उम्मीदवपार दर्शन सिंह कोटफत्ता के चुनाव कार्यालय का उदघाटन करने के बाद एक सभा को संबोधित करते हुए स.बादल ने कहा कि मुख्यमंत्री ने अपने मोरिंडा आवास से बड़ी मात्रा में नकदी चंडीगढ़ के अपने आधिकारिक आवास में स्थानांतरित कर दी थी। स. बादल ने कहा, ‘‘ यह एक बहुत ही संवेदनशील मुददा है, और एक वरिष्ठ न्यायाधीश द्वारा अच्छी तरह से जांच की जानी चाहिए’’।

बठिंडा सांसद ने कहा कि पिछले पांच सालों के कार्यकाल के दौरान कांग्रेस सरकार ने पंजाब को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया है। ‘‘परकाश सिंह बादल की अगुवाई वाली पूर्ववर्ती सरकार द्वारा शुरू किए गए सभी विकास कार्य ठप्प कर दिए गए। सरकार समाज के प्रत्येक वर्ग से किए गए वादों से मुकर गई। समाज के गरीब और अनुसूचित जाति वर्ग को समाज कल्याण योजनाओं का दमन किया गया ,यहां तक कि पूरी तरह से बंद कर दिया गया।

बादल ने कहा कि इस तरह के ट्रैक रिकॉर्ड के बावजूद कांग्रेस पार्टी ने तीन महीने पहले मुख्यमंत्री के बदलाव के बाद फिर से लोगों को बेवकूफ बनाने की कोशिश कर रहे हैं। ‘‘ भव्य योजनाओं और उपायों की घोषणा की गई। लेकिन बुनियादी स्तर पर कोई बदलाव नही हुआ। वास्तव में लोगों को अधिक नुकसान उठाना पड़ा, क्योंकि पंजाब कांग्रेस में शीर्ष कुर्सी को लेकर चल रही अंदरूनी कलह के कारण प्रशासनिक व्यवस्था चरमरा गई और कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ गई।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की निंदा करते हुए स. बादल ने कहा कि दिल्ली के नेता अपनी घटिया चाल से पंजाबियों को मुर्ख बनाने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसा लगता है कि राज्य के लगभग सभी हलकों के लिए टिकट बेचने के बाद उन्होने एक फर्जी सर्वेक्षण में शामिल होकर मुख्यमंत्री पद बेच दिया है। उन्होने आप के उम्मीदवार भगवंत मान से पंजाबियों को यह बताने के लिए कहा कि कैसे उनके जैसा रबर का मोहरा केजरीवाल का विरोध करेगा और केजरीवाल को पंजाब और हरियाणा और दिल्ली के नदी के पानी को स्थानांतरित करने और चार थर्मल प्लांटों में बिजली उत्पादन रोकने की कोशिश जारी रखने से रोकेगा। उन्होने मान से यह भी बताने के लिए कहा कि उन्होने पंजाब के किसानों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज करने की मांग के लिए केजरीवाल के खिलाफ कभी बात क्यों नही की, जिन्होने पराली जलाने वाले किसानों के खिलाफ भी मामला दर्ज करवाने की कोशिश की थी।

बादल ने लोगों से दर्शन सिंह कोटफत्ता की जीत के लिए वोट डालने की भी अपील की। उन्होने कहा कि उन्हे विश्वास है कि शिअद-बसपा गठबंधन पंजाब के चुनावों में जीत हासिल करेगा और शिअद-बसपा सरकार बनने के बाद हर गांव को विकास के लिए र्प्याप्त धन मुहैया कराया जाएगा।

Leave a Comment