बाबा का ढाबा के मालिक को दान में मिले 45 लाख कहां गए, अब खाते में कितने बचे हैं पैसे? जाने पूरी कहानी

नई दिल्ली, 10 जून
Baba ka Dhaba: सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के उपरांत फेमस हुए बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद एक बार फिर चर्चाओं में हैं, क्योंकि भारी नुक्सान झेलने के बाद वह अपना नया खोला रेस्टोरेंट बंद करके एक बार फिर दिल्ली के मालवीय नगर स्थित ढाबे पर आ पहुंचे हैं। पिछले वर्ष वीडियो वायरल होने के बाद उन्हें लाखों रुपये की मदद मिली थी, परन्तु अब लोग सवाल उठा रहे हैं कि आख़िर वह पैसे गए तो गए कहां
कितने पैसे मिले थे कांता प्रसाद को?-नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद ने जानकारी देते बताया कि ‘मुझे पहले पता नहीं था कि मेरे बैंक खाते में कुल कितने पैसे आए हैं। मुझे तो अख़बार के ज़रिए से पता चला कि करीब 45 लाख रुपये मेरे खाते में आए हैं. पहले यह 39 लाख था, फिर 45 लाख हो गया।’

1 6

कहां खर्च किए कांता प्रसाद ने पैसे?-आर्थिक मदद मिलने के बाद कांता प्रसाद ने पिछले वर्ष दिसंबर माह में एक नया रेस्टोरेंट खोला, जिसके लिए उन्होंने करीब 5 लाख रुपए का निवेश किया था। इसके अलावा उन्होंने अपने घर में एक नई मंज़िल का घर बनवाया, अपना पुराना क़र्ज़ चुकाया, ख़ुद के लिए और अपने बच्चों के लिए नए स्मार्टफोन ख़रीदे। इसके अलावा रेस्टोरेंट में हो रहे नुक्सान पर भी पैसे खर्च होते रहे।
रेस्टोरेंट में हर माह हो रहा था हज़ारों रूपए का नुक्सान- बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद का नया रेस्टोरेंट भारी नुक्सान के उपरांत फरवरी माह में बंद करना पड़ा। रेस्टोरेंट का मासिक खर्च लगभग 1 लाख रुपए था, जबकि औसत मासिक बिक्री कभी 40,000 रुपये से अधिक नहीं हुई। कांता प्रसाद के खर्चे में 35000 रुपये रेस्टोरेंट का किराया, 36000 रुपये 3 कर्मचारियों का वेतन और 15 हजार रुपए राशन, बिजली और पानी के लिए शामिल है। रेस्टोरेंट पर धीरे-धीरे ग्राहकों का आना-जाना कम होता गया और रेस्टोरेंट का खर्चा बढ़ने लगा। इसके बाद बाबा को अपना रेस्टोरेंट मज़बूरी में बंद करना पड़ा।

2 2

अब कितने पैसे बचे हैं कांता प्रसाद के पास?- कांता प्रसाद के पास अब कितने पैसे बचे हैं, इसको लेकर उन्होंने बताया कि ‘मेरे पास सिर्फ़ 19 लाख रुपए ही बचे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि नया खोला रेस्टोरेंट खोलने की ग़लत सलाह दी गई थी और मुझे भारी नुक्सान का सामना करना पड़ा। अब बचे हुए पैसों को सुरक्षित भविष्य के लिए जमा करके रखा है.’
कांता प्रसाद रातों-रात चर्च में आ गए थे- बता दें कि पिछले वर्ष यूट्यूबर गौरव वासन ने एक वीडियो शेयर किया थी, जिसमें बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद और बादामी देवी का एक वीडियो शेयर किया था। इसके बाद उनकी किस्मत बदल गई थी और ढाबे पर खाने वालों की लाइन लग गई थी। इसके अलावा भारी संख्या में लोग उनकी मदद के लिए सामने आए, हालांकि इसके बाद उन्होंने यूट्यूबर पर धोखाधड़ी का आरोप भी लगाया था।

3 1

क्या गौरव वासन ने दिया बाबा को धोखा?- क्या गौरव वासन से अब भी उन्हें कोई शिकायत है? इस सवाल पर कांता प्रसाद ने कहा, ‘गौरव ने हमारी मदद की और उनके बारे में ऐसा कैसे कह सकते हैं कि उसने हमारे साथ धोखाधड़ी की। हमको बरगलाया गया था और काग़ज़ पर दस्तख्त करवा लिए गए थे। हम तो बस ये जानना चाह रहे थे कि अकाउंट में कितना पैसा आया है।’

Leave a Comment