बच्चों के लिए वैक्सीन का ट्रायल अगले महीने जून में हो जाएगा शुरू

नई दिल्ली , 22 मई

देश में कोरोना वैक्सीन को लेकर जारी महाअभियान के बीच स्वदेशी कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन को बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक की ज्वांइट मैनेजिंग डॉयरेक्टर सुचित्रा एला ने कहा है कि कई चुनौतियों के बावजूद कंपनी भारत सरकार से किए गए वायदे को हर हाल में पूरा करेगी. 
 
‘कोवैक्सीन की 1 अरब डोज का टारगेट’- भारत बॉयोटेक की वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि कंपनी का फोकस कोवैक्सीन की 1 अरब डोज पर है. हमें अपने 3 सेंटर्स से इतने प्रोडक्शन की उम्मीद है. वैक्सीन की आपूर्ति को लेकर हम भारत सरकार से किया वादा पूरा करेंगे.

‘पेटेंट ट्रांसफर आसान नहीं’- कंपनी की प्रमुख अधिकारी ने कहा कि हमारी वैक्सीन बेहद कारगर है इसे बनाने की प्रकिया आसान नहीं है. हमने इसे जीरो सेल प्लेटफॉर्म पर तैयार किया है. गहन शोध के बाद पेटेंट हासिल करना की प्रकिया भी काफी जटिल है इसलिए पेटेंट को ट्रांसफर करना यानी दूसरों से साझा करना आसान नहीं होगा.

बच्चों पर ट्रायल की मंजूरी- कंपनी की ज्वाइंट एमडी ने कहा कि बच्चों के लिए कोवैक्सीन के ट्रायल की इजाजत ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से मिल चुकी है. उन्हें उम्मीद है कि बच्चों के लिए वैक्सीन का ट्रायल अगले महीने जून में शुरू हो जाएगा. वहीं उन्होंने ये भी कहा कि कोवैक्सीन भारत में मिले डबल म्यूटेंट वेरियंट पर काबू पाने में कारगर साबित हो चुकी है. 

Leave a Comment