चुनाव से दो महीने पहले बीजेपी गोवा में बदलने जा रही है अपना मुख्यमंत्री-: मनीष सिसोदिया


नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (The News Air)

गोवा में आगामी विधानसभा चुनाव से ठीक 2 महीने पहले भाजपा गोवा में अपना मुख्यमंत्री बदलने जा रही है| भाजपा ये मान रही है कि गोवा के मौजूदा मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के नाकारापन के कारण जनता में उनके प्रति रोष बढ़ा है| दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने शनिवार को एक प्रेस-कांफ्रेंस के माध्यम से ये बात साझा की| उन्होंने कहा कि विश्वसनीय सूत्रों के हवाले से ये पता चला है कि भारतीय जनता पार्टी गोवा में विधानसभा चुनाव से केवल 2 महीने पहले प्रमोद सावंत को मुख्यमंत्री पद से हटाकर किसी अन्य को मुख्यमंत्री बनाने जा रही है| भाजपा हाईकमान ये मान रही है कि प्रमोद सावंत ने कोई काम नहीं किया है इसलिए 10 फेलियर पॉइंट के आधार पर गोवा में अपना मुख्यमंत्री बदल रही है| उन्होंने कहा कि भाजपा ये मान चुकी है कि गोवा की जनता मौजूदा प्रमोद सावंत सरकार से दुखी है और प्रमोद सावंत के नेतृत्त्व में गोवा में भाजपा के लिए चुनाव लड़ना मुश्किल होगा| लेकिन मुख्यमंत्री बदलने से अब कोई फायदा नहीं होगा। गोवा की जनता अपना मूड बना चुकी है। इस चुनाव में आम आदमी पार्टी की सरकार बनेगी।

सिसोदिया ने कहा कि उत्तराखंड और कर्नाटक के बाद भाजपा गोवा में भी अपना मुख्यमंत्री चुनावों से ठीक पहले बदलने जा रही है क्योंकि भाजपा ये समझ चुकी है कि गोवा की जनता मौजूदा सीएम प्रमोद सावंत से दुखी है और परेशान हो चुकी है| भाजपा की चुनाव से 2 महीने पहले ये याद आया है कि प्रमोद सावंत ने गोवा में कुछ काम नहीं किया इसलिए उनके नेतृत्त्व में गोवा का चुनाव लड़ना मुश्किल होगा| उन्होंने कहा कि ये देश के इतिहास में यह पहली बार होगा जब सत्ता में बैठी पार्टी ये माने के उनकी सरकार ने कोई काम नहीं किया है और जनता उनसे दुखी है|

सिसोदिया ने कहा कि भाजपा हाईकमान ये मान रही है कि उनके मुख्यमंत्री ने कोई काम नहीं किया है| और इस आधार पर भाजपा ने 10 पॉइंट की एक फेलियर लिस्ट बनाई है| जिसके आधार पर वो अपने मौजूदा मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत को हटाने वाली है|

फेलियर नंबर 1. :- कोरोना मैनेजमेंट में फेल प्रमोद सावंत सरकार भाजपा मान रही है कि गोवा की प्रमोद सावंत सरकार कोरोना के मैनेजमेंट में पूरी तरह से फेल रही है| गोवा में जब कोरोना के मामले बढ़ रहे थे तो प्रमोद सावंत सरकार हाथ पर हाथ रखे बैठी थी इसका नतीजा हुआ कि गोवा में संक्रमण दर 50% तक पहुँच गया| राज्य सरकार के फेल हो जाने पर गोवा की पंचायतों ने लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया| और इस दौरान जनता की मदद करने के बजाय मुख्यमंत्री व स्वास्थ्यमंत्री आपस में उलझते रहे इसकी रिपोर्ट मीडिया में भी आई और अमित शाह के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ|

फेलियर नंबर 2 :- प्रमोद सावंत सरकार = स्कैम सरकार गोवा की भाजपा सरकार लगातार स्कैम कर रही है| अभी हाल फ़िलहाल में ही गोवा में लेबर गेट स्कैम सामने आया है जहाँ मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कंस्ट्रक्शन बोर्ड द्वारा वर्कर्स को दिया जाने वाला पैसा अपने कार्यकर्ताओं में बाँट दिया|

फेलियर नंबर 3 :- कोविड रिलीफ के नाम पर झूठ* गोवा की प्रमोद सावंत सरकार ने घोषणा की थी कि कोरोना के दौरान अपने घरों के ब्रेड-अर्नेर्स खोने वालों को 5000 रूपये की पेंशन दी जाएगी पर अबतक एक परिवार को भी ये राशि नहीं मिली है|

फेलियर नंबर 4 :- वेतन वृद्धि निकली जुमला* प्रमोद सावंत सरकार ने वादा किया था कि कोरोना वारियरर्स के वेतन में 20% की वृद्धि करेंगे लेकिन ये बात भी जुमला साबित हुई|

फेलियर नंबर 5 :- आपदा प्रबंधन के मामले में भी फेल* आपदा प्रबंधन के मामले में भी प्रमोद सावंत सरकार फेल हो गई| ताउकते तूफान के दौरान गोवा में 4 दिन तक बिजली गुल रही| सरकार को तूफान के बारे में पहले से ही जानकारी थी लेकिन मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे|

फेलियर नंबर 6 :- प्रमोद सावंत सरकार ने गोवा के युवाओं को जॉब के नाम पर जुमला दिया* सरकार ने ये घोषणा की थी कि 10 हज़ार युवाओं को रोजगार दिया जाएगा लेकिन अबतक किसी को रोजगार नहीं मिला| और जब आम आदमी पार्टी ने इसके खिलाफ कैम्पैन किया तो चुनाव से 2 महीने पहले भाजपा सरकार झूठे विज्ञापन निकाल रही है| आज स्थिति ये है कि देश में सबसे ज्यादा बेरोजगारी दर गोवा में है|

फेलियर नंबर 7 :- माइनिंग माफिया के आगे नतमस्तक प्रमोद सावंत सरकार* कोर्ट के आदेश को नज़रंदाज़ करते हुए माइनिंग लॉबी को खुश करने में लगे हुए है प्रमोद सावंत|

फेलियर नंबर 8 :- बदहाल लॉ-आर्डर* गोवा में कानून का बुरा हाल है| रिपोर्ट्स के अनुसार गोवा में रोजाना बड़ी संख्या में मर्डर और डकैती हो रही है और क्राइम रेट बहुत तेज़ी से बढ़ रहा है|

फेलियर नंबर 9 :- बदहाल शिक्षा व्यवस्था* गोवा में शिक्षा व्यवस्था बदहाल हो चुकी है| कुछ सरकारी स्कूल बंद हो चुके है, कुछ बंद होने के कगार पर है| कोरोना के दौरान तो स्थिति ये थी कि ऑनलाइन पढ़ाई के लिए नेटवर्क न मिलने के कारण बच्चे पेड़ पर चढ़ कर पढ़ाई कर पढ़ाई कर रहे थे|

फेलियर नंबर 10 :- बिजली-पानी की आसमान छूती कीमते* गोवा की जनता बढे हुए बिजली बिल से त्रस्त है, आम आदमी पार्टी ने जब बढ़े हुए बिल का विरोध किया तो भाजपा ने लास्ट बिल हाइक वापस लिया है|

मनीष सिसोदिया ने कहा कि भाजपा ये मान चुकी है कि गोवा के उनके मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत फेल हो चुके है, उनका नेतृत्त्व फेल हो चुका है| इसलिए चुनाव से पहले वो मुख्यमंत्री को बदल रहे है| उन्होंने कहा कि भाजपा चाहे कितने भी मुख्यमंत्री क्यों न बदल ले लेकिन जनता का मूड नहीं बदलने वाला है| गोवा की जनता आने वाले चुनावों में भाजपा को गोवा से उखाड़ फेकेगी और आम आदमी पार्टी की सरकार को लेकर आएगी|


Leave a Comment

error: Content is protected !!
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

I Have Disabled The AdBlock Reload Now