यह इंडस्ट्रियल इक्विपमेंट स्टॉक 14 साल की ऊंचाई पर, 3 महीने में 85% का दिया रिटर्न

Elecon Engineering Company Shares : एलकॉन   इंजीनियरिंग कंपनी का शेयर सोमवार को बीएसई पर इंट्राडे में 15 फीसदी की मजबूती के साथ 264.85 रुपये के स्तर पर पहुंच गया, जो उसका 14 साल का ऊपरी स्तर है। बाजार में कमजोरी के बावजूद इंडस्ट्रियल इक्विपमेंट कंपनी के शेयर में हेवी वॉल्यूम के साथ मजबूती देखने को मिली है। दोपहर लगभग दो बजे तक शेयर का ट्रेडिंग वॉल्यूम 60 लाख स्टॉक्स के साथ लगभग दोगुने से ज्यादा था, जो कंपनी की 5.4 फीसदी इक्विटी के बराबर है। हालांकि बाद में शेयर में तेजी कुछ सीमित हो गई और अपराह्न 3.10 बजे Elecon Engineering Company का शेयर 9 फीसदी बढ़त के साथ 251 रुपये पर कारोबार कर रही है।

एक साल में दिया 110 फीसदी का रिटर्न

आज शेयर फरवरी, 2008 से अभी तक के अपने ऊपरी स्तर पर पहुंच गया है। पिछले चार ट्रेडिंग सेशन के दौरान शेयर 35 फीसदी मजबूत हो चुका है। पिछले तीन महीनों में शेयर 85 फीसदी का रिटर्न दे चुका है, जबकि इस दौरान एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स में 2.6 फीसदी की ही मजबूती देखने को मिली है। वहीं एक साल में शेयर लगभग 110 फीसदी का रिटर्न दे चुका है। इससे पहले, शेयर 20 दिसंबर, 2007 को अपना 343 रुपये का रिकॉर्ड हाई छूआ था।

इन दो सेगमेंट में कारोबार कर रही है कंपनी

एलकॉन इंजीनियरिंग दो बिजनेस सेगमेंट में हैं- ट्रांसमिशन इक्विपमेंट और मैटेरियल हैंडलिंग इक्विपमेंट। ट्रांसमिशन इक्विपमेंट सेगमेंट में गियरबॉक्स, कपलिंग्स और एलीवेटर ट्रैक्शन मशीनों का विनिर्माण होता है। मैटेरियल हैंडलिंग सेगमेंट में रॉ मैटेरियल हैंडलिंग सिस्टम्स, स्टाकर्स, रिक्लेमर्स, बैगिंग या वेइंग मशीनें, वैगन या ट्रक लोडर्स, क्रशर्स, वैगन टिपलर्स, फीडर्स और पोर्ट इक्विपमेंट सहित मैटेरियल हैंडलिंग इक्विपमेंट बनाए जाते हैं। कंपनी इन मैटेरियल हैंडलिंग इक्विपमेंट और सिस्टम्स से जुड़े प्रोजेक्ट्स से भी जुड़ी है।

ब्रिकवर्क रेटिंग्स पिछले महीने बैंक लोन फैसिलिटीज की रेटिंग अपग्रेड की

13 मई, 2022 को रेटिंग एजेंसी ब्रिकवर्क रेटिंग्स ने Elecon Engineering Company की बैंक लोन फैसिलिटीज की रेटिंग को अपग्रेड किया है।

रेटिंग एजेंसी ने रेटिंग अपग्रेड करनी वजह बताते हुए कहा, कंपनी के प्रॉफिटेबिलिटी मार्जिन में सुधार हुआ है। पिछले तीन साल के दौरान कर्ज में कमी आई है, देनदारियों में खासी कमी आई है। कैपिटल स्ट्रक्चर सहज स्थिति में है और सुधर रहा है। मजबूत कैश फ्लो बना हुआ है।

Leave a Comment