आग ने छीनी ली 11 ज़िंदगियाँ,कबाड़ के गोदाम में लगी भयानक आग

The News Air– हैदराबाद के भोईगुड़ा में कबाड़ की दुकान में आग लगने से 11 लोगों की मौत हो गई। हादसे के वक़्त गोदाम में 12 लोग मौजूद थे। इनमें से केवल एक ही बच सका। मौक़े पर पहुँची डीआरएफ की टीम ने आग बुझाई। लेकिन तब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी थी। आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है।

घटना सुबह क़रीब चार बजे हुई, जिस वक़्त सभी मज़दूर सो रहे थे। गांधी नगर एसएचओ मोहन राव ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

कमरे में एक ही सीढ़ी थी, एक ने कूदकर बचाई जान

फायर ब्रिग्रेड के पास सुबह 3.55 बजे फ़ोन आया। दमकल की आठ गाड़ियां मौक़े पर भेजी गईं। लेकिन आग पर क़ाबू पाने में 3 घंटे लग गए। फायर ब्रिगेड कर्मियों के मुताबिक़ मज़दूर ख़ुद को इसलिए नहीं बचा सके क्योंकि गोदाम में सिर्फ़ एक घुमावदार सीढ़ी थी, उसमें से केवल एक ही व्यक्ति कमरे से बाहर कूदकर भागने में कामयाब रहा।

DNA टेस्ट से होगी लाशों की पहचान

फायर ब्रिगेड के एक अधिकारी ने बताया कि आग कबाड़ के गोदाम से शुरू हुई और ऊपर के कमरे में फैल गई। लाशों की हालत देखकर लग रहा है कि मज़दूरों ने भागने की कोशिश की, लेकिन घने धुएं में सांस लेने के कारण वे बेहोश हो गए। यह दिल दहला देने वाला दृश्य था, क्योंकि लाशों की पहचान नहीं हो पा रही थी। वे एक के ऊपर एक ढेर में थे। पुलिस अधिकारी ने कहा कि मरने वालों की पहचान के लिए डीएनए टेस्ट करवाया जाएगा।

मरने वाले सभी प्रवासी मज़दूर बिहार के थे

हैदराबाद ज़िला कलेक्टर एल शरमन के मुताबिक़ मरने वाले सभी मज़दूर बाहरी थे। वहीं तेलंगाना के CM केसी राव ने सिकंदराबाद के भोईगुड़ा में आग लगने से बिहार के श्रमिकों की मौत पर दुख जताया। उन्होंने परिजनों को 5-5 लाख रुपए मुआवज़ा देने की घोषणा की है। साथ ही मारे गए श्रमिकों के शवों को उनके घर भेजने की व्यवस्था करने का निर्देश दिया।

PMO भी देगा सहायता राशि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हैदराबाद के भोईगुड़ा में आग में लोगों की मौत पर दुख ज़ाहिर किया है। पीएम मोदी ने कहा- इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं मरने वाले मज़दूरों के परिवारों के साथ हैं। मज़दूरों के परिजन को PMNRF की ओर से 2-2 लाख रुपए दिए जाएंगे।

Leave a Comment