भागलपुर में बम बनाते समय हुआ धमाका, ज़बरदस्त विस्फोट से 5 किमी तक दहल उठा इलाक़ा

The News Air- बिहार के भागलपुर में बम बनाते समय हुए विस्फोट में 12 लोगों की मौत हो गई है। शहर के काजवली चक इलाक़े में गुरुवार रात क़रीब 11.30 बजे ज़बरदस्त धमाका हुआ। इससे क़रीब 5 किमी तक का इलाक़ा दहल उठा। वहीं बम फटने से चार घर ढह गए। इनके मलबे से लोगों को निकालने की कोशिश की जा रही है। सुबह पौने 12 बजे तक 12 शव निकाले गए हैं। विस्फोट में 11 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। इनका इलाज चल रहा है। घटना पर पीएम मोदी ने भी शोक जताते हुए ट्वीट किया, और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से फ़ोन पर बात की।

पुलिस को मलबे से 5 किलो बारूद और काफ़ी संख्या में लोहे की कीलें मिली हैं। इस वजह से पुलिस बम ब्लास्ट के एंगल से भी जांच कर रही है। कुछ ही दिनों पहले IB ने भी भागलपुर पुलिस को अलर्ट किया था। विस्फोट से क़रीब 5 किमी के दायरे में बसे दस हज़ार परिवारों ने पूरी रात दहशत में गुजारी। रात भर अफ़रातफ़री का माहौल रहा। भागलपुर एसएसपी बाबूराम ने कहा कि यहां तीन लोग पटाखा बनाने का काम करते थे। इसी में अचानक विस्फोट होने से आसपास के चार मकान गिरने और मलबे में लोगों के दबने से मौतें हुई हैं। कुछ लोगों ने बताया है कि लीलावती देवी के मकान में विस्फोट हुआ है। एफएसएल की टीम जांच कर रही है। पूरी रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगा कि विस्फोटक किस तरह का था।

तेज़ी से हटाया जा रहा मलबा

घायलों का इलाज भागलपुर के मायागंज अस्पताल में चल रहा है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अफ़सर घटनास्थल पर पहुंच गए। ज़मींदोज़ हुए मकानों के मलबे को हटाने का काम चल रहा है। विस्फोट के दौरान मौजूद पड़ोसी निर्मल साह उर्फ लड्डू ने बताया कि परिवार के सभी सदस्य खाना खाकर घर में सो रहे थे। वह भी घर के बाहर बैठे थे तभी तेज़ धमाका हुआ।

ई-रिक्शे से कई लोगों को अस्पताल पहुंचाया

धमाका होने के बाद घर में जैसे ही लोग देखने के लिए अंदर घुसे घर गिरना शुरू हो गया। परिवार के सभी सदस्य मलबे में दब चुके थे। घटनास्थल पर बहुत धुँआ हो जाने से कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। किसी तरह कुछ लोगों को ई-रिक्शे से ले जाकर मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया। घटना के बाद पूरे इलाक़े में दहशत है।
काजवली चक में बम ब्लास्ट से कई घरों को भी नुक्सान पहुंचा है। किसी की छत गिर गई है। किसी की खिड़की में लगा शीशा टूट गया है। वहीं, स्थानीय रमेश कुमार ने बताया कि इतनी ज़ोरदार आवाज़ के साथ ब्लास्ट हुआ कि पहले कभी भी इतनी ज़ोर से आवाज़ नहीं हुआ था। ब्लास्ट होने के बाद सड़कों पर पूरी तरह से बारूद का धुआँ भर गया।

क्या बोले DIG

स्थानीय लोगों के मुताबिक़ शब-ए-बारात के लिए घर में बम बनाया जा रहा था, जिसको लेकर ये ब्लास्ट हुआ है। घायल निर्मल ने भी इसकी पुष्टि की है। DIG सुजीत कुमार का कहना है कि FSL की टीम जांच कर रही है इसके बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि यह किस तरह का विस्फोट था।

बम डिस्पोजल टीम मौक़े पर पहुँची

SSP बाबूराम ने रात की घटना पर अपडेट किया है। उन्होंने बताया कि अभी तक 5 लोगों की डेड बॉडी मिल चुकी है। घटना में घायल 11 लोगों का इलाज जारी है। घटना का कारण सम्भवतः पटाखा मटेरिल में विस्फोट है। अभी तक जो जानकारी मिली है कि पीड़ित परिवारों में से एक परिवार पटाखा बनाने का काम करता था। जिसके घर मे पहले भी विस्फोट की घटना हो चुकी है। उसी के घर मे विस्फोटक पदार्थ में विस्फोट हुआ प्रतीत होता है। बम डिस्पोजल टीम और FSL की टीम के निरीक्षण के बाद स्थिति कुछ ओर स्पष्ट हो सकेगी।

कोलकाता में हुई थी दो गिरफ़्तारी

हाल ही में भागलपुर के दो शख़्स को विस्फोटक समान के साथ कोलकाता पुलिस ने गिरफ़्तार किया था। इसको लेकर भागलपुर में कई जगह पर निशानदेही पर छापेमारी की गई थी। सूत्रों के मुताबिक़ IB की टीम ने भागलपुर पुलिस को अलर्ट किया था। कुछ दिनों पहले ही भागलपुर के नाथ नगर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म संख्या दो पर डेटोनेटर बम बरामद किया गया था। इसके बाद नाथ नगर रेलवे स्टेशन के क़रीब रेलवे ट्रैक किनारे ज़ोरदार बम ब्लास्ट में एक व्यक्ति की मौत हुई थी।

भागलपुर के DM सुब्रत कुमार ने कहा कि सभी अधिकारी जांच कर रहे हैं। घटना को लेकर बताया कि अभी रेस्क्यू चल रहा है। इससे पहले भागलपुर के काजवली चक, बबरबगंज, हबीबपुर, बरारी आसानंदपुर समेत कई इलाक़ों में बम विस्फोट की घटना घट चुकी है।

Leave a Comment